कर्जमाफी के बाद सरकार रबी सीजन में खाद-बीज के लिए किसानों को बांटेगी 49 करोड़ रुपए ऋण

जिला सहकारी बैंक ने चालू वित्तीय वर्ष में अक्टूबर से लेकर अब तक किसानों के स्वीकृत किए तीन करोड़ रुपए का कर्ज

 

रीवा. जय किसान ऋण माफी योजना के बाद अब सरकार रबी सीजन में किसानों को खाद-बीज के लिए 49 करोड़ रुपए ऋण बांटने का लक्ष्य निधारित किया गया है। चालू वित्तीय वर्ष में किसानों को खाद, बीज और नगद कर्ज के लिए लिमिट तय की है। अक्टूबर से लेकर अब तक तीन करोड़ रुपए से ज्यादा का ऋण किसानों को स्वीकृत कर दिया गया है।
चालू सीजन में तीन लाख रुपए लिमिट तय
सरकार चालू वित्तीय वर्ष में रबी सीजन के लिए किसानों की लिमिट तय कर दी है। रीवा में जिला सहकारी बैंक की 15 शाखाएं हैं। जिसके अंतर्गत 148 सहकारी समितियां काम कर रहीं हैं। जिले की समितियों में करीब 60 हजार किसानों का पंजीयन है। वित्तीय वर्ष 2019-20 में किसानों को खाद-बीज कर्ज के लिए लक्ष्य निर्धारित कर दिया है। अक्टूबर से लेकर ३१ मार्च तक किसानों को ऋण वितरण का टारगेट दे दिया गया है। जिले में सहकारी समिति में पंजीकृत किसानों को अधिकतम तीन लाख रुपए की लिमिट निर्धारित की गई है। जिला सहकारी बैंक ने खाद-बीज के अलावा किसानों को उपकरण आदि खरीदी व अन्य कार्य के लिए कुल पांच करोड़ रुपए नगद ऋण बांटने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

किसानों को ऋण देने गुमराह कर रहे प्रबंधक
जिले में सरकार ने सहकारी बैंक और उससे जुड़ीं समितियों को ऋण बांटने के लिए लक्ष्य निर्धारित कर दिया है। इसके बावजूद ज्यादातर समिति प्रबंधक किसानों को ऋण देने में आनाकानी कर रहे हैं। कई समिति प्रबंधकों ने किसानों को ऋण बांटने पर प्रतिबंध लगाने की जानकारी देकर कर्ज नहीं दे रहे हैं। सैकड़ों की संख्या में किसानों ने सीएम हेल्पलाइन से लेकर विभागीय अध्ािकारियों व कलेक्टर से शिकायत की है। इसके बावजूद समिति प्रबंधक किसानों को नगद ऋण स्वीकृत नहीं कर रहे हैं।

Show More
Rajesh Patel
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned