गाज गिरने से परिवार के आधा दर्जन लोग झुलसे, गांव में दहशत

नईगढ़ी थाने के माड़ौ गांव में हुई घटना, घायलों को लाया गया अस्पताल

By: Mahesh Singh

Published: 07 Jun 2018, 12:08 PM IST

 

रीवा. गाज गिरने से एक परिवार के आधा दर्जन लोग बुरी तरह झुलस गये। घायलों को तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जिनकी हालत खतरे से बाहर है। घटना नईगढ़ी थाने के माड़ौ गांव की है। बुधवार की शाम बारिश के समय एक परिवार के आधा दर्जन लोग घर के अंदर बैठे हुए थे। करीब चार बजे अचानक घर के छप्पर में आकाशीय बिजली गिरी। इस दौरान घर का छप्पर उड़ गया और कमरे के अंदर बैठे आधा दर्जन लोग उसकी चपेट में आ गये जिसमें वे झुलस गये। घटना से पूरे गांव में हंगामा मच गया।

 

स्थानीय लोगों की मदद से परिवार के सभी लोगों को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया, चार लोग बेहोश है। चिकित्सकों की देखरेख में घायलों का इलाज चल रहा है। घायलों में पूजा कोल पति रमेश कोल (26), राजेश कोल पिता विश्वनाथ (25), अनारकली पति दिनेश कोल (34), श्यामवती पति सुखलाल कोल (55), विकास कोल पिता रामसुमेर (11), बृजेश कोल पिता दिनेश कोल (14) शामिल हंै। जिस कमरे में सभी लोग बैठे हुए थे उसी घर के छप्पर में यह गाज गिरी थी। संयोग से परिजन दूर बैठे हुए थे जिससे बड़ी घटना टल गई।

 

गाज गिरने से वृद्ध की मौत

गाज गिरने से वृद्ध की भी मौत हो गई। सगरा थाना अन्तर्गत ग्राम मनकहरी निवासी वंशरूप कुशवाहा (70) बुधवार की सांयकाल आंधी आने पर आम के बगीचे तरफ जा रहे थे। रास्ते में बारिश होने लगी तो उन्होंने पानी से बचने के लिए आम के पेड़ का सहारा ले लिया। उसी दौरान आम के पेड़ में गाज गिरी जिसकी चपेट में आने से वृद्ध की घटनास्थल पर मौत हो गई। इस दौरान पुलिस मौके पर पहुंच गई जिसने घटनास्थल का निरीक्षण कर शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया।

 

दो जून को भी गिर चुकी है गाज

इस गांव में 2 जून को भी गाज गिरी है। दोपहर मवेशी चराने गये आधा दर्जन लोग पेड़ के नीचे छिपे हुए थे जिनके ऊपर गाज गिर गई थी। उसमें भी एक महिला की मौत हो गई थी और आधा दर्जन लोग झुलस गये थे। चार दिन बाद ही गांव में दूसरी बार आकाशीय बिजली गिरने से गांव में दहशत का माहौल निर्मित हो गया है।

Show More
Mahesh Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned