हत्या के विरोध में परिजनों ने रोका अंतिम संस्कार, मुआवजा व आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग

हत्या के विरोध में परिजनों ने रोका अंतिम संस्कार, मुआवजा व आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग
In protest against the murder, the family stopped the funeral, demandi,In protest against the murder, the family stopped the funeral, demandi,In protest against the murder, the family stopped the funeral, demandi

Shiv Shankar Pandey | Updated: 12 Oct 2019, 08:52:28 PM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

एसडीएम व सीएसपी की समझाईश पर माने परिजन, एक आरोपी गिरफ्तार

रीवा। युवक की हत्या के विरोध में शनिवार को बवाल मच गया। गुस्साए परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार रोक दिया। बाद में एसडीएम व सीएसपी के आश्वासन पर परिजन माने और शव का अंतिम संस्कार किया गया। घर के इकलौते चिराग के बुझने से पूरा परिवार सदमे में है। घटना सिटी कोतवाली थाने के जिऊला गांव की है।

शुक्रवार की शाम हुई थी हत्या
अजीत साकेत (२४) निवासी जिऊला शुक्रवार की शाम मजदूरी करके अपने घर जा रहा था। सांयकाल करीब साढ़े 6 बजे वह जिऊला मोड़ में फुल्की खा रहा था तभी उस पर बाबूलाल साकेत सहित अन्य लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया। घायल युवक की अस्पताल में मौत हो गई। शनिवार की सुबह पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। शव लेकर गांव पहुंचे परिजनों ने अंतिम संस्कार रोक दिया और हंगामा करने लगे। हंगामे की सूचना मिलते ही नगर पुलिस अधीक्षक शिवेन्द्र सिंह व एसडीएम सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। स्थानीय लोग पीडि़त परिवार को आर्थिक सहायता व आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे।

एसडीएम के आश्वासन पर माने परिजन
एसडीएम ने परिजनों का तत्काल आर्थिक सहायता दिलाने का आश्वासन दिया जिसके बाद वे शव का अंतिम संस्कार करवाने को राजी हो गए। दोपहर शव का अंतिम संस्कार किया गया। इस हत्याकांड में पुलिस ने आधा दर्जन आरोपियों को नामजद किया है जिसमें एक आरोपी बाबूलाल साकेत को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस अन्य आरोपियों के संबंध में जानकारी जुटा रही है।

पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप, प्रधान आरक्षक निलंबित
परिजनों ने पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाया है। उक्त आरोपी इससे पूर्व भी कई बार पीडि़त परिवार के साथ विवाद कर चुके हंै और कई बार घर के सदस्यों से मारपीट किये है। परिजनोंं ने कई बार थाने में शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। पूरा मामला सामने आते ही एसपी ने बीट के प्रधान आरक्षक मणिराज सिंह को निलंबित कर दिया है।

विकलांग मां व वृद्ध पिता का सहारा था इकलौता पुत्र
इस घटना का शिकार हुआ युवक अपने घर का इकलौता चिराग था। उसकी मां लकवा के कारण विकलांग हो गई थी और पिता भी बुजुर्ग हो गया था। वह मजदूरी करके किसी तरह अपने परिवार के लिए दो वक्त की रोटी जुटाता था। आरोपियों ने वृद्ध माता-पिता से उनका सहारा छीन लिया।

आरोपियों की तलाश में दी जा रही दबिश
एक युवक पर हमला कर हत्या कर दी गई थी। परिजनों की कुछ मांग थी जिस पर उनको शीघ्र कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है। हत्याकांड में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है जिससे पूछताछ की जा रही है। अन्य आरोपियों की तलाश में जगह-जगह दबिश दी जा रही है।
शिवेन्द्र सिंह, सीएसपी रीवा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned