थोक मंडी का प्रशासन और बढ़ाए समय, नहीं हो पा रही है पूरी सब्जी की खरीदी

सब्जी उत्पादक किसान बोले, हो रहा नुकसान

By: Anil singh kushwah

Published: 23 Apr 2020, 01:56 AM IST

रीवा. सब्जी उत्पादक किसानों ने प्रशासन से थोक मंडी का समय बढ़ाने की मांग की है। किसानों का कहना है कि अभी सुबह 5 से 9 बजे तक समय देने के कारण उनकी सब्जियां नहीं बिक पा रही हैं। बताया गया कि अधिकतर किसान साइकिल व अन्य साधन से सब्जी लेकर मंडी सुबह 7 बजे पहुंचते हैं। दूरी होने के कारण व्यापारी भी 7.30 बजे से 8.30 बजे तक पहुंचते हैं, जिसके बाद सब्जी खरीदने का काम तेज होता है, लेकिन 9 बजते ही पुलिसबल सभी हटाने लगता है। ऐसे में किसानों की सब्जियां नहीं बिक पाती हैं और वापस ले जाने में काफी परेशानी व खराब होने का डर रहता है।

सुबह 11 बजे तक मांगा समय
विंध्य सब्जी उत्पाद एवं विक्रेता संघ के संयोजक जेपी कुशवाहा ने सब्जी मंडी क ो सुबह 11 बजे तक खोलने की मांग को लेकर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है। कहा है कि लॉकडाउन में रियायत मिलने के बाद किसानों को थोक सब्जी मंडी में सुबह 11 बजे तक समय दिया जाए, जिससे उनकी सब्जियां बिक सकें। तीन स्थानों में मंडी लगने के के कारण व्यापारी नहीं पहुंच पाते हंै।

अब मंडी के अंदर लगेंगी दुकानें
करहिया सब्जी मंडी के बाहर आलू, टमाटर व प्याज की ट्रक लगाकर थोक व्यापारी बेचते हैं। सड़क के किनारे कु छ फुटकर विके्रता भी दुकानें लगा लेते है, जिसके चलते भीड़ जमा हो जाती है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होता। अब करहिया सब्जी मंडी के अंदर आलू , टमाटर, प्याज व अदरक की दुकानें संचालित होंगी।

Anil singh kushwah Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned