प्रतिदिन चलाएं रीवा-नागपुर व इंदौर, राजकोट के बढ़ाएं फेरे

रेलवे उपयोगकर्ता परामर्शदात्री की बैठक में उठाये गए मुद्दे, रीवा-पुणे बाया कल्याण की उठाई मांग

रीवा. रेलवे उपयोगकर्ता परामर्शदात्री की 17वीं बैठक पश्चिम मध्य रेलवे के जोन कार्यालय में आयोजित हुई। बैठक में नवागत महाप्रबंधक शैलेन्द्र सिंह ने पहले रेवले के विकास कार्यों को बताया है। कहा लगातार पश्चिम मध्य रेलवे यात्रियों को बेहतर सुविधा देने का प्रयास कर रहा है। बैठक में रीवा से सीमित के सदस्य प्रकाश शिवनानी ने रीवा से नागुपर व इंंदौर ट्रेन प्रतिदिन चलाने का प्रस्ताव रखा है। इसके साथ ही रीवा-राजकोट के फेरे बढ़ाने की मांग रखी। बैठक में बताया कि रीवा से बड़ी संख्या में इलाज के लिए लोग नागपुर जाते हैं। सडक़ मार्ग खराब होने के कारण रेलमार्ग को ज्यादा सहज यात्री मानते हैं। सप्ताह में रीवा-नागपुर एक दिन होने के कारण यात्रियों को इस ट्रेन का पूरा लाभ नहीं मिल रहा है। इसी तरह रीवा-हबीबगंज रेवांचल एक्सप्रेस में हमेशा वेटिंग रहती है ऐसे में हबीबगंज जाने वाले यात्रियों को जगह नहीं मिल पाती है। ऐसे में रीवा-इंदौर के बीच सप्ताह में चलने वाली ट्रेन को प्रतिदिन करने की मांग रखी। इसके अतिरिक्त रीवा-राजकोट में यात्रियों की भीड़ को देखते हुए इसके फेरे बढ़ाने की मांग उठाई। इन सभी प्रस्तावों को रेलवे के महाप्रबंधक ने बड़ी गंभीरता के साथ लिया है।

10 करोड़ में बनेगा रीवा में एसी कोच मेंटीनेंस डिपो
रीवा में 10 करोड़ 79 लाख रुपए में एसी कोच मेंटीनेंस डिपो का निर्माण जल्द प्रांरभ होगा। २० दिसंबर को टेंडर खोले जा चुके हैं। इसके बाद अब इस संबंध में वर्क आर्डर जल्द जारी होगें। एसी मेंटीनेंस डिपो प्रारंभ होने के बाद रीवा में कई नई ट्रेनों का संचालन संभव हो सकेगा। अभी एसी कोच मेंटीनेंस होने की सुविधा नहीं होने से लंबी दूरी की बड़ी गाडिय़ों का संचालन नहीं हो पा रहा था।

रीवा से अमृतसर व रीवा-पुणे नई टे्रन की मांग
बैठक में नई ट्रेनों के संबंध में रीवा से अमृतसर एवं रीवा पुणे बाया कल्याण होते हुए नई ट्रेन संचालित करने की मांग रखी है। उन्होंने बताया विंध्य से बड़ी संख्या में अमृतसर एवं राधास्वामी सत्संग व्यास की यात्रा करते है। इसके लिए विंध्य से कोई सीधी टे्रन नहीं है। इस दृष्टि से यह नई ट्रेन रीवा से चलाई जाए। वहीं प्लेटफार्म क्रमांक ०२ में स्वीकृत लिफ्ट एवं एटीएम लगाने की मांग जल्द पूरी करने की बात कही है।

Balmukund Dwivedi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned