एमपी के इस शहर में कृष्ण-कन्हैया का मनाया गया ऐसा जन्मोत्सव कि फीका पड़ गया कई शहरों का जश्न, भक्ति में डूबा शहर

एमपी के इस शहर में कृष्ण-कन्हैया का मनाया गया ऐसा जन्मोत्सव कि फीका पड़ गया कई शहरों का जश्न, भक्ति में डूबा शहर
Janmashtami celebrated with enthusiasm in Rewa, worship in temples

Ajit Shukla | Publish: Sep, 04 2018 01:46:28 PM (IST) Rewa, Madhya Pradesh, India

पूरे दिन चला आयोजन...

रीवा। रात के ठीक बारह बजे जैसे ही भगवान श्रीकृष्ण के जन्म की शुभ घड़ी आई वैसे ही मंदिरों से लेकर घरों में जय कन्हैया लाल की...., नंद के घर आनंद भयो जैसे जयकारे लगने लगे। वैसे तो भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव के रूप में जन्माष्टमी पर्व पर सुबह से ही आयोजनों का दौर शुरू हो गया लेकिन जैसे-जैसे कन्हैया के जन्म की शुभ घड़ी नजदीक आती गई पूजा-अर्चना व भजन कीर्तन का आयोजन और जोर पकड़ता गया। इसके अलावा लाल-गोपाल की झांकी निकाले जाने के साथ मटकी फोड़ प्रतियोगिता सहित कई अन्य आयोजन हुए।

सोहर व भजन-कीर्तन के साथ मनाया गया जन्मोत्सव
भगवान श्रीकृष्ण के जन्म पर मंदिर से लेकर घरों तक में विविध आयोजन हुए। मुकाती मंदिर हो या राधा-कृष्ण मंदिर या फिर सब्जी मंडी स्थित हनुमान मंदिर हो, सभी जगर कन्हैया की बाललीला की झांकी सहित अन्य आयोजन हुए। महिलाओं ने सोहर व भजन-कीर्तन कर श्रीकृष्ण के जन्म का उत्सव मनाया। विविध आयोजनों के बाद प्रसाद वितरण के साथ कार्यक्रमों की पुर्णाहुति हुई।

देखते ही बनी गोपाल जी की झांकी
जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा की ओर से मानस भवन में बृहद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शाम को जन्मोत्सव कार्यक्रम से पहले महासभा की ओर से गोपाल जी की भव्य झांकी निकाली गई। मानस भवन से निकली झांकी शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए पुन: मानस भवन पहुंची। उसके बाद वहां सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन हुआ। कार्यक्रम में उद्योग मंत्री राजेंद्र शुक्ला भी शामिल हुए और सभी को जन्माष्टमी की बधाई दी। इस मौके पर महासभा के अध्यक्ष राकेश सिंह यादव व अन्य पदाधिकारी सहित यादव समाज के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

संगीतमय भजन कार्यक्रम में झूमे भक्त
मारूति नंदन सेवा समिति की ओर से सब्जी मंडी में स्थित हनुमान मंदिर में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर संगीतमय भजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शाम करीब नौ बजे से शुरू होकर मध्य रात्रि के बाद तक चले कार्यक्रम में भक्तों की भारी भीड़ जमा हुई। संगीतमय कार्यक्रम में शुरू हुए भजन-कीर्तन में भक्तगण ऐसे डूबे कि घंटों कब बीता उन्हें मालूम ही नहीं चला। मध्य रात्रि के बाद प्रसाद वितरण के साथ कार्यक्रम का समापन हुए।

‘श्रीकृष्ण की जीवन लीला को आत्मसात करने की जरूरत’
प्रजापिता ब्रह्माकुमारीज ईश्वरीय विश्वविद्यालय में जन्माष्टमी पर्व पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में भगवान श्रीकृष्ण की लीला के माध्यम से लोगों को प्रेरित किया गया। इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित देवतालाब विधायक गिरीश गौतम ने श्रीकृष्ण के जीवन लीला का जिक्र करते हुए कहा कि भगवान की जीवन लीला से जो संदेश मिलता है उसे आत्मसात किए जाने की जरूरत है।

मटकी फोड़ प्रतियोगिता में दिखा उत्साह
जन्माष्टमी पर्व पर परंपरा के अनुरूप शहर के विभिन्न स्थानों में मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। शिल्पी प्लाजा व सिरमौर चौराहे में आयोजित प्रतियोगिता खास आकर्षण का केंद्र बनी। शिल्पी प्लाजा में ‘ए’ व ‘बी’ ब्लाक के बीच गत वर्षों की भांति इस बार भी मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन शिल्पी कंस्ट्रक्शन व शिल्पी प्लाजा ओनर वेलफेयर सोसायटी की ओर से किया गया।

विजेताओं को मिला 5100 रुपए का पुरस्कार
प्रतियोगिता में पांच टीमों ने प्रतिभाग किया। शुरुआत से लेकर अंत तक सभी पांच टीम के सदस्य मटकी फोडऩे की पुरजोर कोशिश में लगे रहे, लेकिन अंतत: शिल्पी क्लब टीम ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। दूसरे स्थान पर जय माता दी नवयुवक मंडल की टीम रही। इंजीनियर राजेंद्र शर्मा की ओर से विजेता टीम को 11000 रुपए का उपविजेता टीम को 5100 रुपए का नकद पुरस्कार दिया गया। इसी प्रकार सिरमौर चौराहा स्थित मटकी फोड़ प्रतियोगिता में प्रतिभागियों में गजब का उत्साह दिखा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned