कामायनी एक्सप्रेस में यात्री कोरोना पॉजिटिव, खलबली

मुंबई से कामायनी एक्सप्रेस में सफर कर यात्री डभौरा स्टेशन पहुंचे। घर पहुंचने पर तीसरे दिन जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। सफर के दौरान कई यात्री भी कान्टेक्ट में गए होंगे

By: Rajesh Patel

Published: 29 Jun 2020, 08:14 AM IST

रीवा. मुंबई से सीधे कोरोना गांव-गांव पहुंच रहा है। जिससे संक्रमितों का ग्राफ एक बार फिर बढऩे लगा है।ऐसा ही एक मामला रीवा जिले में आया है। यात्री मुंबई से कामायनी एक्सप्रेस में सफर कर यात्री डभौरा स्टेशन पहुंचे। घर पहुंचने पर तीसरे दिन जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। हैरानी की बात तो यह कि मुंबई से डभौरा तक सफर के दौरान कई यात्री भी कान्टेक्ट में गए होंगे। ऐसे में ट्रेन के गन्तव्य स्थान तक पहुंचने में कई यात्री भी कोरोना जद में आए गए हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद यात्रियों में खलबली मच गई है।

मुंबई से ट्रेन पहुंची डभौरा, स्क्रीनिंग के बाद पहुंचे घर
मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ आरएस पांडेय ने बताया कि जवा ब्लाक क्षेत्र के देवलिहन पंचायत के गंज गांव निवासी सप्ताहभर पहले कामायनी एक्सप्रेस से डभौरा रेलवे स्टेशन आए। स्क्रीनिंग की गई। लक्षण नहीं मिलने पर क्वारंटीन कर दिया गया। तबियत खराब होने पर 25 जून को पिता-पुत्र समेत परिवार के पांच संदिग्धों का सैंपल लिया गया। शनिवार की आधी रात पिता-पुत्र की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जबकि पुत्र व पत्नी समेत तीन की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

4408 का लिया जा चुका सैंपल
सीएमएओ ने बताया कि रविवार को भी 173 संदिग्धों का सैंपल लिया गया है। दो दिन के भीतर चार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। रविवार को एक्टिस केस 16 थे। जिसमें तीन की रिपोर्ट निगेटिव आने पर देरशाम डिस्चार्ज कर दिया गया। अब एक्टिस केस 13 हैं। अब तक कुल 4408 सैंपल लिए गए। जिसमें 3852 की जांच हो चुकी है। 3679 की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। अभी 556 की रिपोर्ट आना बाकी है।

तीन मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव, डिस्चार्ज
त्योंथर के डीह, हनुमना समेत रौरा को मिलाकर तीन मरीजों की दूसरी जांच रिपोर्ट रविवार की शाम निगेटिव आ गई। सीएमएचओ डॉ आरएस पांडेय ने बताया कि तीनों को देरशाम डिस्चार्ज कर दिया गया। जबकि सैकड़ो संदिग्धों को केयर सेंटर में रखकर निगरानी की जा रही है।

बुजुर्ग महिला के कान्टेंट में आए 23
शहर के कटरा निवासी बुजुर्ग महिला का संजय गांधी अस्पताल में इलाज चल रहा है। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद वार्ड के मरीजों भी चिंता बढ़ गई है। एसजीएमच में एक्टिस केस पांच हैं। इसके अलावा 11 सस्सपेक्टेड रखे गए हैं। कटरा निवासी बुजुर्ग महिला के कान्टेक्ट में अभी तक 23 लोगों को चिह्ंत किया गया है। जिसमें परिवार के 4 सदस्यों को हाई रिस्क में रखा गया है। इसके अलावा अस्पताल के हड्डी रोग विभाग के वार्ड में ड्यूटी करने वाले चिकित्सक समेत स्टाफ को भी क्वारंटीन कर दिया गया है।

COVID-19 COVID-19 virus
Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned