रक्षक बना भक्षक, युवक का एटीएम बदलकर निकाले 10 हजार, जानिए क्या था मामला

रक्षक बना भक्षक, युवक का एटीएम बदलकर निकाले 10 हजार, जानिए क्या था मामला
Keeping the protector, changing the ATM of the youth 10 thousand, know

Shiv Shankar Pandey | Updated: 21 Jul 2019, 09:08:20 PM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

समान पुलिस ने सुरक्षाकर्मी को पकड़ा, मदद के बहाने उड़ाए थे रुपए

रीवा। जिस व्यक्ति को एटीएम की सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गई थी उसने ही युवक का कार्ड बदलकर खाते से रुपए निकाल लिये। पूरा मामला सामने आने पर पुलिस ने सुरक्षाकर्मी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। रायपुर कर्चुलियान थाना अन्तर्गत ग्राम पड़रिया निवासी विनीत कुमार शुक्ला 18 जुलाई को समान थाना अन्तर्गत नेहरु नगर में स्थित एटीएम में रुपए निकालने गया था। एटीएम में रुपए नहीं निकल रहे थे तो पीडि़त ने वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी जितेश्वर सिंह निवासी लालगांव की मदद ली।

मदद के बहाने बदला एटीएम
सुरक्षाकर्मी ने मदद के बहाने बड़ी सफाई से युवक का कार्ड बदल लिया और उसे दूसरा कार्ड पकड़ाकर पिन नम्बर भी देख लिया। पीडि़त जैसे ही रुपए लेकर घर पहुंचा तो उसके खाते से दस हजार रुपए निकलने का मैसेज आया जिसे देखते ही उसके होश उड़ गए। पीडि़त ने अपना एटीएम कार्ड चेक किया तो वह दूसरे का निकला। उसने तत्काल थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई।

संदेह के आधार पर सुरक्षाकर्मी को पकड़ा
पुलिस ने पूरे मामले की जांच की तो सुरक्षाकर्मी पर शक की सुई टिक गई। उसको हिरासत में लेकर पुलिस ने पूछताछ की तो उसने खाते से रुपए निकलने की बात स्वीकार कर ली। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से युवक का एटीएम कार्ड और रुपए बरामद किए हंै। उसे रविवार को न्यायालय में पेश कर दिया गया।

दूसरे फरियादियों से भी कराई जायेगी तस्दीक
सुरक्षाकर्मी ने जिस तरह से कार्ड बदलकर खाते से रुपए निकाले थे उससे पुलिस उसका दूसरी घटनाओं में भी हाथ होने की आशंका जता रही है। फलस्वरूप पुलिस अन्य थानों में दर्ज मामलों के पीडि़तों को बुलवाकर उसकी तस्दीक करवा रही है।

आरोपी से पूछताछ जारी
एटीएम में ठगी करने वाले सुरक्षाकर्मी को गिरफ्तार किया गया है। उसने युवक को मदद का झंासा देकर कार्ड बदल लिया था और खाते से दस हजार रुपए निकाले थे। आरोपी से पूछताछ की जा रही है।
शशि धुर्वे, थाना प्रभारी समान

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned