Madhya Pradesh Budget 2021-22: जानें क्या मिला विंध्य क्षेत्र को...

-पिछले कई बजट से उपेक्षित रहा विंध्य क्षेत्र

By: Ajay Chaturvedi

Published: 02 Mar 2021, 02:46 PM IST

रीवा. शिवराज सिंह चौहान सरकार के लिए Madhya Pradesh Budget 2021-22 कई मायनों में खास है। पिछले वर्ष इसी महीने में कांग्रेस को सत्ता से बेदल कर फिर से सरकार बनाने में सफल चौहान सरकार ने जो बजट पेश किया उसमें कोरोना महामारी का पुट ज्यादा रहा। महामारी से लड़ने की रणनीति ने बहुत कुछ करने से रोका था। हालांकि उसका असर इस बार के बजट पर भी साफ तौर पर दिख रहा है। बावजूद इसके यह बजट कई मायनों में कुछ खास है। इस बजट में वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा ने प्रदेश के हर क्षेत्र को खुश करने की कोशिश की है। इसके तहत महाकौशल के साथ विंध्य क्षेत्र का भी खास खयाल रखा गया है।

जानें क्या मिला विंध्य क्षेत्र को

रीवा चिकित्सा महाविद्यालय में वर्ष 2020-21 के लिए एमबीबीएस सीट में वृद्धि की गई है
मंडला, सिंगरौली, सिवनी में शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय खुलेंगे
जबलपुर में रेस्पिरेटरी मेडिसिन, ऑथोपेडिक्स और ऑप्थेल्मोलॉजी केंद्र प्रक्रियाधीन है
जबलपुर में स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट जल्द चालू करने के लिए बजट दिया जा रहा है
रीवा में कैंसर उपचार के लिए लिनेक उपकरणों की पीपीपी मोड पर स्थापन होगी
जबलपुर स्थित जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्विविद्यालय में मृदा एवं क्रियाशील फाइटोसेनेटरी प्रयोगशाला स्थापित की गई है
प्रदेश में एक जिला एक उत्पादन के तौर पर जबलपुर में मटर को चिन्हित किया गया है। मार्केट लिंकेज व कोल्ड स्टोरेज विकसित होने से रोजगार के नए अवसर खुलेंगे

ये भी पढ़ें- Madhya Pradesh Budget 2021-22: संस्कारधानी को मिली विज्ञान और बेहतर स्वास्थ्य की सौगात


जबलपुर में युवाओं को पशुपालन के क्षेत्र में आकर्षित करने के लिए नानजी देशमुख पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय ने ज्ञान पोर्टल तैयार किया है
रीवा, उमरिया, छिंदवाड़ा, बालाघाट, सिवनी की हवाई पटि्टयों पर पायलट प्रशिक्षण, एयरो स्पोटर्स व अन्य गतिविधियों के लिए शुल्क पर उपयोग करने की अनुमति दी गई है
पन्ना में डायमंड म्यूजियम स्थापित किया जा रहा है। वहीं होम स्टे व ग्राम स्टे से इस क्षेत्र के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा
कान्हा, बांधवगढ़, पेंच के बफर जोन में पयर्टकों को होम स्टे की सुविधा से स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा
विन्ध्यावैली ब्रांड-स्वरोजगार योजनाओं के तहत तैयार सामग्री का विन्ध्यावैली ब्रांड से जोड़ने का लक्ष्य इस क्षेत्र को मिलेगा
पुलिस-चार हजार पुलिस भर्ती से खाली पदों की पूर्ति होगी। सीसीटीएनएस, सीसीटीवी और डायल-100 को एकीकृत किया जाएगा
अपराध नियंत्रण में फेस रिकग्नीशन व वीकल डिटेक्शन तकनीक का लाभ जबलपुर को मिलेगा

finance minister
Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned