सीवरेज प्रोजेक्ट पर आखिर किस लालच में मेहरबान हैं अधिकारी, लोकायुक्त में लाखों के फर्जी भुगतान की शिकायत

- कांग्रेस पार्षद दल ने लोकायुक्त एसपी से की शिकायत, पूर्व में जिन मामलों में था आरोप, उन्हें नजरंदाज कर किया गया भुगतान

By: Mrigendra Singh

Published: 24 Jul 2018, 04:00 PM IST

 रीवा। शहर में चल रहे सीवरेज प्रोजेक्ट का कार्य लगातार विवादों में घिरता जा रहा है। पहले से इसकी कई शिकायतें सामने आ चुकी हैं, अब फिर से लोकायुक्त कार्यालय कांग्रेस के पार्षद पहुंचे। इनका आरोप है कि शहर में सीवर लाइन बिछाने का मनमानी रूप से काम चल रहा है।
इस पर कार्रवाई करने के बजाय लगातार भुगतान भी किया जा रहा है। कांग्रेस पार्षद दल के सदस्यों ने कहा है कि इस मामले में ठेकेदार के साथ ही नगर निगम के जिम्मेदार अधिकारियों के विरुद्ध भी कार्रवाई होना चाहिए।
नगर निगम में विपक्ष के नेता अजय मिश्रा बाबा, सज्जन पटेल, रामप्रकाश तिवारी, नजमा बेगम, एहसानुल हक, अशोक पटेल, मो. अकरम, आरती बक्सरिया, लखनलाल खंडेलवाल, धनेन्द्र सिंह आदि ने लोकायुक्त कार्यालय पहुंचकर ज्ञापन सौंपा है।

नियमों की अनदेखी की गई

आरोप है कि 215 करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट है, इसमें शुरुआती दौर से ही भ्रष्टाचार किया जा रहा है। पहले टेंडर देने में नियमों की अनदेखी की गई, इसके बाद मनमानी निर्माण किया जा रहा है। घटिया सामग्री का निर्माण में उपयोग किया जा रहा है, शिकायतों के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। यदि लोकायुक्त में भी सही तरीके से जांच नहीं की गई तो इस मामले को लेकर कोर्ट जाएंगे।
ठेका कंपनी केके स्पन को टेंडर स्वीकृत करने के मामले में पहले भी लोकायुक्त में एक शिकायत की गई थी, अब निर्माण कार्य के लिए किए गए भुगतान को सवालों के घेरे में रखा गया है।

इस मामले में जांच की मांग
शिकायत में कहा गया है कि केके स्पन कंपनी के छठवां देयक 16 जून को 2.47 करोड़ रुपए की जांच के बाद पीडीएमसी ने 1.43 करोड़ रुपए भुगतान की स्वीकृति दी थी। इसमें भी आरोप है कि सही भुगतान नहीं हुआ है। इसमें ड्राइलीन कांक्रीट के लिए 21.94 लाख का भुगतान हुआ है। पार्षदों का आरोप है कि इसमें 8.16 लाख का भुगतान ही उचित है। डब्ल्यूबीएम एवं क्रशर डस्ट के उपयोग पर 9.50 लाख के भुगतान पर 4.74 का सही बताया है। अन्य कई कार्यों पर शिकायत में तर्क दिए गए हैं और कहा गया है कि इसकी जांच कराई जाए। इस पूरे मामले पर 64.74 लाख रुपए का अनियमित रूप से भुगतान का आरोप है।

भोपाल भेजेंगे शिकायती आवेदन
लोकायुक्त के डीएसपी देवेश पाठक का कहना है कि नगर निगम के कांग्रेस पार्षद दल ने सीवरेज प्रोजेक्ट पर भुगतान की शिकायत की है। लोकायुक्त के नाम से प्रेषित पत्र है, इसे भोपाल भेजा जाएगा।

Show More
Mrigendra Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned