लॉकडाउन: शहर में 150 वाहनों की पुलिस ने की जांच, 62 गाडिय़ों का किया चालान

निकाला फ्लैग मार्च, लॉकडाउन के उल्लंघन पर दी हिदायत

By: Anil singh kushwah

Published: 23 Apr 2020, 01:33 AM IST

रीवा. लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए पुलिस बुधवार को भी सक्रिय रही। शहर में चेक प्वाइंटों पर दिनभर पुलिस की तैनाती रही वहीं शहर के अंदर बेवजह घूमने वाले और अधिक सवारी लेकर चलने वाले लोगों को रोका और उनको समझाइश दी गई। वहीं सांयकाल पुलिस ने शहर में बाइक से फ्लैग मार्च निकाला। एसपी आबिद खान सहित तमाम अधिकारियों बाइक से पूरे शहर का भ्रमण किया। इस दौरान छूट दी गई दुकानों के अलावा अन्य दुकानों पर पुलिस ने नजर रखी। वहीं अनावश्यक घूमने वाले वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की गई।

दुकानदारों को पुलिस ने दी सख्त हिदायत
पुलिस ने दुकानदारों को सख्त हिदायत दी है कि निर्धारित दुकानों के अलावा किसी ने यदि दुकान खोली तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। वहीं, शहर के भीतर लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई की है। बुधवार को पुलिस ने 143 वाहनों के खिलाफ कार्रवाई की है जिसमें 6 2 वाहन चालकों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की गई है। वहीं मास्क न लगाने पर 6 7 वाहनों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई की है। 221 लोगों को पुलिस ने थाने में बुलवाकर उनको समझाईश दी है। पुलिस की उक्त कार्रवाई से वाहन चालकों में हड़कंप मच गया।

बोले, हम कोरोना महामारी को नहीं मानते, पुलिस ने गाड़ी जब्त किया
जनेह थाने के गढ़ी चौकी में पुलिस वाहनों की जांच कर रही थी। जीप में सवार होकर तीन लोग पहुंचे जिनको पुलिस ने रोक लिया। उनको फोरव्हीलर में दो लोगों के चलने अनुमति की जानकारी देते हुए जब पुलिस ने तीन लोग बैठने का कारण पूछा तो कहा कि हम कोरोना महामारी को नहीं मानते हैं। यह सुनते ही पुलिस ने गाड़ी को जब्त कर लिया और उसमें सवार तीनों लोगों के खिलाफ मामला दर्जकर लिया। जिन लोगों पर पुलिस ने कार्रवाई की है उनमें वीरेन्द्र सिंह निवासी अमिलिया, सत्येन्द्र तिवारी निवासी चंद्रपुर, बालेन्द्र जायसवाल निवासी चंद्रपुर शामिल है।

कंट्रोल रूम से हटवाई गई बाडी सेनिटाइजर मशीन
पुलिस कंट्रोल रूम में लगवाई गई बाडी सेनिटाइजर मशीन को हटवा दिया गया। इसका शरीर में दुष्प्रभाव होने की बात सामने आई थी। बुधवार को डीएसपी यातायात मनोज वर्मा ने उसे गेट से हटवाकर किनारे रखवा दिया है। हालांकि मशीन लगने के दूसरे दिन से ही शोपीस बन गई थी।

Anil singh kushwah Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned