Breaking news : मध्य प्रदेश की सौर ऊर्जा से दौड़ेगी देश की पहली रैपिड रेल

रीवा के बदवार मेगा सोलर प्लांट की बिजली से पहले ही दिल्ली की मेट्रो का हो रहा संचालन

By: Rajesh Patel

Updated: 26 Jun 2020, 08:06 AM IST

रीवा. दिल्ली मेट्रो के बाद अब दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ देश की पहली रैपिड रेल भी रीवा की सौर ऊर्जा से दौड़ाने की तैयारी है। दिल्ली-मेरठ ट्रैक पर ट्रेन संचालन के लिए जल्द ही सौर्य ऊर्जा की आपूर्ति की भी प्रक्रिया शुरू होगी। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम (एनसीआरटीसी) और मध्य प्रदेश ऊर्जा निगम के अफसरों से भी अनुबंध को लेकर भी कवायद शुरू हो गई है।

बिजली बचत के लिए सौर ऊर्जा का होगा उपयोग
सुबकुछ योजना के तहत हुआ तो जल्द ही ऊर्जा विभाग अब देश की पहली रिजलन रेल सेवा दिल्ली-गाजियाबाद-मरेठ रेल ट्रैक पर शुरू होने वाली रैपिड रेल को भी आपूर्ति करेगा। दिल्ली-एनसीआर में बिजली की खपत कम करने के लिए सौर ऊर्जा का प्रयोग किया जाएगा। साथ ही दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का दबाव भी कम करेगी। रैपिड रेल संचालन के लिए सौर ऊर्जा की बिजली आपूर्ति के लिए अनुबंध करने की कवायद शुरु हो गई है।

25 हजार वोल्ट करंट से संचालित होगी ट्रेन
एनसीआरटीसी के अधिकारियों के अनुसार सौर ऊर्जा से लाइट, पंखा तो चलता ही है। कार्यालयों में इसका प्रयोग होने लगा है। उससे ट्रेन की गतिविधियों को संचालित करना। सौर ऊर्जा को ट्रांसफार्मर में बदल कर इतनी बिजली सप्लाई की जा सकती है। जिससे गति प्रभावित किए बिना ही ट्रेन का इंजन चलता रहे। करीब 25 हजार वोल्ट के बिजली करंट से ट्रेन संचालित होगी। इतनी बिजली सौर ऊर्जा से ही दी जा सकती है। इस लिए मेट्रो जिन तकनीको को अपना रहा है। उससे बेहतर तकनीक और तरीकों को रैपिड रेल में प्रयोग किया जाएगा।

वल्र्ड बैंक ऑफ इंडिया के ट्रिवटर हैंडल
वल्र्ड बैंक ऑफ इंडिया के ट्रिवटर हैंडल में इसी साल चार जून को दी गई जानकारी के अनुसार 60 फीसदी दिल्ली मेट्रो का संचालन सौर्य ऊर्जा से होता है। दिल्ली मेट्रो प्रतिदिन 373 किमी सौर ऊर्जा से चलती है। दिल्ली मेट्रो को वह सौर ऊर्जा मध्य प्रदेशके रीवा स्थित मेगा सोलर प्लांट से मिलता है।

रीवा के बदवार पहाड़ी पर मेगा सोलर प्लांट
मध्य प्रदेश के रीवा जिले में बदवार पहाड़ी पर 750 मेगावाट सौर ऊर्जा प्लांट स्थापित है। कुल बिजली उत्पादन का 24 फीसदी बिजली दिल्ली मैट्रो को आपूर्ति की जा रही है। लगभग दो साल से बिजली की आपूर्ति हो रही है।

फिर होगा रीवा का नाम
देश की राजधानी में मध्य प्रदेश की बिजली की डिमांड बढ़ गई है। रीवा के सौर ऊर्जा से दिल्ली की मेट्रो संचालन से रीवा का नाम एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय पटल पर आया है। ऊर्जा निगम के अधिकारियों के मुताबिक प्रदेश में मंदसौर, नीमच समेत तीन जिले में सौर ऊर्जा प्लांट स्थापित किया जा रहा है।

वर्जन...
मेगा सौर प्लांट में कुल उत्पादन का 24 फीसदी बिजली दिल्ली मेट्रो को दो साल से सप्लाई की जा रही है। एनसीआरटीसी अनुबंद करती है तो शासन की गाइड लाइन पर आपूर्ति की जाएगी। अनुबंद की चर्चा भोपाल स्तर पर अधिकारियों से होगी। एनसीआरटीसी विभिन्न कंपनियों से बातचीत कर रहा है।
एसएस गौतम, जिला अक्षय ऊर्जा अधिकारी

मुंबई लोकल के 21 लाख 33 हजार यात्री घटे
patrika IMAGE CREDIT: patrika
Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned