डेढ़ माह से फरार कराधान घोटाले का मुख्य आरोपी, पैरवी करना भूले जिम्मेदार

प्रशासन के एफ आइआर दर्ज कराने के बाद भी पुलिस नहीं लगा सकी सुराग, जिले के गंगेव ब्लाक में घोटाले में पंचायतों की तय नहीं हो सकी जवाबदेही

By: Rajesh Patel

Published: 17 Oct 2020, 11:07 AM IST

रीवा. जिले के गंगेव ब्लाक में कराधान घोटाले का मास्टर माइंड बाबू और वेंडर पुलिस की पकड़ से दूर हैं। हैरानी की बात तो यह कि डेढ़ माह से मुख्य आरोपी फरार चल रहा है। बावजूद इसके जिम्मेदार लापरवाह बने हैं। प्रशासन भी आरोपियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराकर पैरवी करना भूल गया है। भी तो फरार चल रहे बाबू के खिलाफ वैधानिक एक्शन नहीं लिया जा सका है। पंचायत विभाग भी सहायक रोजगार सहायक को बर्खास्त कर इतिश्री कर ली है।

जिले के गंगेव जनपद में दर्जनों पंचायतों में नियम-कायदे की अनदेखी कर करीब १३ करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा किया गया। घोटाले में तत्कालीन कमिश्नर की जांच के एक साल बाद जैसे-तैसे कार्रवाई की गई। जिला पंचायत सीइओ के निर्देश पर घोटाले के मास्टर माइंड के खिलाफ एफआरआर दर्ज कर लिया गया। लेकिन, एफआइआर दर्ज कराने के बाद पंचायत विभाग भी पैरवी करना भूल गया है। पंचायत अधिकारियों की अनदेखी के चलते ही मुख्य आरोपी राजेश कुमार सोनी और वेंडर नागेन्द्र सिंह फरार चल रहा है। हैरानी की बात तो यह कि फरार आरोपी कोर्ट से लेकर हाईकोर्ट में जमानत के लिए अर्जी लगा रहा है। लेकिन, पुलिस की पकड़ से मुख्य आरोपी दूर है। प्रशासन भी एफआइआर दर्ज कराने के बाद अगली कार्रवाई करना भूल गया है।

पंचायतों की तय नहीं हो सकी जवाबदेही
जिला पंचातय कार्यालय के की ओर जांच पर जांच कराई जा रही है। मामले में गंगेव कार्यालय के बाबू के खिलाफ एफआर दर्ज कराने के बाद अगली कार्रवाई करना भूल गया है। फरार बाबू को बर्खास्त करने की कार्रवाई नहीं की जा सकी है। यही नहीं संबंधित पंचायतों की जवाबदेही तक तय नहीं की जा सकी है।

जांच के लिए फिर से गठित की टीम
गंगेव घोटाले की शिकायत पंचायत, सहित शासन व इओडब्ल्यू से की गई है। सभी शिकायत जांचों को मिलाकर जिपं सीइओ ने एक जांच टीम गठित की है। जांच रिपोर्ट आने के बाद पंचातयों के खिलाफ जल्द ही जवाबदेही तय की गई है। सीइओ ने एडिशनल सीइओ की अगुवाई में चार सदस्यीय जांच टीम गठित की है।

Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned