समय से पहले तैयार होगा मोहनिया घाटी की टनल, रीवा-सीधी की घटेगी दूरी


- सीएम ने समय से पहले काम करने पर की तारीफ, अगले साल प्रारंभ होने का अनुमान

By: Mrigendra Singh

Updated: 26 Sep 2021, 12:21 PM IST


रीवा। राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 39 में रीवा-सीधी के बीच मोहनिया घाटी में निर्माणाधीन टनल का कार्य अपने निर्धारित समय से पहले ही पूरा होने जा रहा है। निर्माण पूरा होने के बाद इसके जल्द लोकार्पण की तैयारी की जा रही है। यह टनल रीवा से रांची नेशनल हाइवे में स्थित है। इसका निर्माण पूरा होने से मोहनिया घाटी में वाहनों को जो अतिरिक्त समय लगता था वह बचेगा। साथ ही सात किलोमीटर की दूरी भी कम हो जाएगी। मोहनिया घाटी में टनल और बायपास निर्माण के लिए मार्च 2023 तक का समय निर्धारित किया गया है। नेशनल हाइवे अथारिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआइ) के अधिकारियों के अनुसार यह काम जुलाई 2022 में पूरा हो जाएगा। प्रदेश में चल रहे पांच प्रमुख परियोजनाओं की समीक्षा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की, उन्होंने 8 माह पहले पूरा होने वाले मोहनिया घाटी टनल व बायपास निर्माण में अब तक की प्रगति की सराहना की है। साथ ही कहा है कि जल्द इसके लोकार्पण की तैयारी की जाए।
----------------
मोहनिया घाटी टनल की यह है खासियत
- 2.29 किलोमीटर लंबी टनल में अप व डाउन दिशा में तीन-तीन लेन की होगी सड़क।
- 7 स्थानों पर आपस में टनल जुड़ी होगी। ताकि कभी कहीं पर जाम की स्थिति निर्मित होने पर यातायात डायवर्ट किया जा सके।
- टनल की खुदाई का काम अगस्त में हुआ पूरा। अब सीमेंट की लाइनिंग, प्रकाश व्यवस्था और हवा निकासी और कैमरे लगाने का काम शेष।
--
टनल के समीप एक्वाडक्ट में बाणसागर नहर
मोहनिया घाटी पर टनल के उपर ही बाणसागर डेम से यूपी और एमपी के लिए अलग-अलग कैनाल के उपर एक्वाडक्ट का निर्माण किया गया है। इसमें एमपी वाली कैनाल के उपर ब्रिज और यूपी कैनाल के नीचे से टनल गुजरी है। प्रदेश में यह एकमात्र निर्माण है जिसमें नीचे टनल, उपर कैनाल और उसके उपर सड़क है।
----------
--
टनल बनाना अंधेरे में तीर चलाने जैसा होता है। खुशी की बात है कि मोहनिया घाटी टनल में खुदाई का काम पूरा हो गया है। पहाड़ी में समतल से डेढ़ सौ मीटर नीचे खुदाई काम चुनौती भरा रहा। समय से पहले प्रोजेक्ट का काम पूरा हो जाएगा। इससे रीवा से सीधी की दूरी 7 किलोमीटर कम हो जाएगी। समय की भी बचत होगी।
सुमेश बाझल, प्रोजेक्ट डायरेक्टर एनएचएआइ

Mrigendra Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned