मंदसौर हिंसा के विरोध में पुलिस से भिड़े कांग्रेसी, कलेक्टर पर स्याही फेंकने का किया प्रयास

मंदसौर हिंसा के विरोध में पुलिस से भिड़े कांग्रेसी, कलेक्टर पर स्याही फेंकने का किया प्रयास
Rewa Kisan Andolan

Suresh Kumar Mishra | Updated: 13 Jun 2017, 11:37:00 AM (IST) Rewa, Madhya Pradesh, India

किसानों की समस्या को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन, किसानों पर फायरिंग के विरोध में कमिश्नरी के सामने किया प्रदर्शन।

रीवा। किसानों की समस्याओं को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सोमवार को कलेक्ट्रेट का घेराव किया। इस बीच कुछ कार्यकर्ताओं ने उग्रता जाहिर करते हुए कलेक्ट्रेट के भीतर घुसने का प्रयास किया, जिनकी पुलिसकर्मियों से झड़प भी हुई। काफी देर तक झूमाझटकी की स्थिति बनी रही, ज्ञापन लेने कलेक्टर बाहर आए तो किसी कार्यकर्ता ने स्याही से भरी बोतल उछाल दी।

जो कलेक्टर पर तो नहीं गिरी पर कुछ पुलिसकर्मियों की वर्दी खराब हो गई। हालांकि सभी ने इसे हल्के में लिया और शांतिपूर्ण माहौल बना रहा। इससे पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कोठी कंपाउंड स्थित कमिश्नरी पर प्रदर्शन किया।

आक्रोश जताते हुए नारेबाजी की
मंदसौर की घटना पर आक्रोश जताते हुए नारेबाजी की। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह की मौजूदगी में मारे गए किसानों को श्रद्धाजंलि दी गई। तत्पश्चात सभा हुई जिसे प्रदेश अध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष सहित कांग्रेस के अन्य नेताओं ने संबोधित किया। सभा के बाद कांग्रेस पैदल मार्च कर कलेक्टे्रट पहुंचे।

वेरिकेटिंग तोडऩे का प्रयास
बड़े नेताओं का काफिला पहुंचने से पहले ही युवा कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट पहुंच गए और पुलिस की वेरिकेटिंग तोडऩे का प्रयास किया। इस बीच पुलिस ने रोकने का प्रयास किया जिसके चलते झूमाझटकी हुई और कई कार्यकर्ता गिरकर चोटिल भी हुए। जिन्हें प्राथमिक उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया।

साजिश से भड़का आंदोलन: अरुण
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा, भाजपा के लोग कांग्रेस पर आरोप लगा रहे हैं लेकिन वास्तविकता तो यह है कि केवल किसानों का आंदोलन चल रहा था, जिसमें भाजपा के किसान संगठन और सरकार ने बिना किसी चर्चा के ही आंदोलन समाप्त करने की घोषणा कर दी। इसके बाद आंदोलन भड़क उठा जिसकी जिम्मेदार सरकार की है।

नहीं तो गेट तोड़कर घुसेंगे: बन्ना
प्रदर्शन के दौरान मऊगंज विधायक सुखेन्द्र सिंह बन्ना ने कहा कि कलेक्टर बाहर आकर ज्ञापन लें अन्यथा हम गेट तोड़कर भीतर घुसेंगे। इसके बाद कार्यकर्ता उग्र हुए और एक बार फिर भीतर घुसने का प्रयास किया। बिगड़ते माहौल को नेता प्रतिपक्ष ने संभाला और कहा कि एक अवसर कलेक्टर को दिया जा रहा है यदि वह बाहर आकर ज्ञापन लेंगे तो ठीक अन्यथा दूसरा विकल्प हमारे सामने खुला है। इसके बाद भारी सुरक्षाबल के साथ कलेक्टर और एसपी बाहर आए। जिन्हें विधायक सुंदरलाल तिवारी, सुखेन्द्र सिंह बन्ना एवं जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बिन्द्राप्रसाद ने ज्ञापन सौंपा।

पूंजीपतियों के लिए काम कर रही सरकार: सुंदरलाल
गुढ़ विधायक सुंदरलाल तिवारी ने कहा, भाजपा की सरकार पूंजीपतियों का कर्ज माफ करती है उनके लिए योजनाएं बनाती है। किसानों और गरीबों की बात आती है तो कहते हैं बजट नहीं है। कांग्रेस फिर से सरकार में आएगी और समाज के हर वर्ग को न्याय दिलाएगी। उन्होंने कहा कि किसानों पर गोलियां चलाई जा रही हैं, इस कारण कांग्रेस सड़क पर है, हम चुप नहीं रहेंगे किसानों और गरीबों की लड़ाई पहले की तरह लड़ते रहेंगे।

थानों में सन्नाटा, चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस
कलेक्ट्रेट के घेराव को देखते हुए पुलिस विभाग ने सुबह से ही चाक चौबंद व्यवस्था लगा दी थी। थानों में मुंशी और संतरी को छोड़कर सारा बल रीवा बुलवा लिया गया था जो सुबह आठ बजे कंट्रोल रूम पहुंच गया था। इसके बाद पुलिस बल को सभास्थल व कलेक्ट्रेट के चारों ओर लगा दिया गया। खुद आईजी आशुतोष राय, डीआईजी आरपी सिंह, एसपी संजय कुमार दिनभर सड़कों में व्यवस्था बनाने में मुस्तैद रहे। थानों में दिनभर सन्नाटे की स्थिति देखने को मिली।

पुलिस से झूमा-झटकी में कई कार्यकर्ता चोटिल
ज्ञापन सौंपने के दौरान भीतर घुसने का प्रयास कर रहे कई कार्यकर्ताओं की वेरिकेटिंग तोड़ते समय पुलिस से झड़प हो गई। करीब दर्जनभर कार्यकर्ता चोटिल हुए हैं। युवा कांग्रेस के सिरमौर विधानसभा कमेटी विद्यापाल गौतम को चोट पहुंची है, जिन्हें संजयगांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पार्षद विनोद शर्मा, संदीप पटेल, स्वतंत्र शर्मा, अनूप सिंह, तार्केश्वर सिंह गहरवार, केपी सिंह, अमित चौबे, विक्रम सिंह, धर्मेश भी आंशिक चोटिल हुए हैं।
Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned