MP के प्राध्यापकों ने भी दी आंदोलन की धमकी

-MP शासकीय महाविद्यालय प्राध्यापक संघ ने किया आंदोलन का ऐलान
-ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय में हुई संघ की बैठक

By: Ajay Chaturvedi

Published: 29 Jul 2021, 03:09 PM IST

रीवा. मध्य प्रदेश में कोरोना का कहर मद्धिम पड़ने के साथ ही चारों तरफ से सरकार पर हमला होने लगा है। हर कामकाजी हड़ताल पर आमादा है। जूनियर डॉक्टर, नर्स, राज्यकर्मचारी, पंचायत कर्मचारी और ग्राम विकास अधिकारियों के बाद अब महा विद्यालयों के प्राध्यापकों ने भी चरणबद्ध आंदोलन की चेतावनी दे दी है।

प्रांतीय शासकीय महाविद्यालय प्राध्यापक संघ के आह्वान पर जिले के ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय में हुई प्राध्यापकों की बैठक में आंदोलन की रणनीति तैयार की गई। बैठक में प्राध्यापक यूजीसी वेतनमान में कार्यरत शिक्षकों के बकाया वेतनमान के भुगतान, एरियर्स, महंगाई भत्ता व गृह भाड़ा भत्ता के भुगातन लंबित रहने से आक्रोशित दिखे। प्राध्यापकों का कहना है कि सरकार उनकी मांगों पर ध्यान दे नहीं रही। ऐसे में आंदोन ही विकल्प है।

प्राध्यापक संघ के सचिव डॉ अखिलेश शुक्ला बताते हैं कि बैठक में तय किया गया है कि आंदोलन का प्रथम चरण 2 अगस्त से 14 अगस्त तक चलेगा। इस दौरान प्राध्यापक पोस्टकार्ड लिखकर मुख्यमंत्री को व्यक्तिगत रूप से ज्ञापन प्रेषित करेंगे। साथ ही जनप्रतिनिधियों को भी पत्र भेज कर मुख्यमंत्री पर दबाव बनाया जाएगा। आंदोलन के दौरान प्राध्यापक काला मास्क और काली पट्टी लगाकर कार्य करेंगे।

उन्होंने बताया कि द्वितीय चरण 16 से 25 अगस्त तक चलेगा और इस दौरान गेट मीटिंग, स्लोगन, पोस्टर प्रदर्शन आदि जैसे सांकेतिक विरोध प्रदर्शन कर शासन का ध्यान आकृष्ट कराया जाएगा।

बैठक में प्रंतीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. महेश शुक्ल, सभ्भागीय कोषाध्यक्ष डॉ. अजय शंकर पाण्डेय, तहसील इकाई रीवा के अध्यक्ष डॉ. केके शर्मा, रीवा जिला के कोषाध्यक्ष डॉ. संजय सिंह, तहसील इकाई के कोषाध्यक्ष डॉ. बीपी सिंह तथा रीवा जिला के सचिव डॉ. अखिलेश शुक्ल उपस्थित रहे।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned