डॉ. मुखर्जी ने देश की सभ्यता और संस्कृति से नहीं किया समझौता

भाजपा कार्यालय में याद किए गए डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी

 

By: Mahesh Singh

Published: 24 Jun 2020, 03:03 AM IST

रीवा. भारतीय जनता पार्टी के संभागीय कार्यालय अटल कुंज में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी स्मृति दिवस पर संगोष्ठी आयोजित की गई। कार्यकम की शुरुआत मुखर्जी के छाया चित्र पर पुष्पांजलि कर की गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेश कार्यसमिति सदस्य योगेश ताम्रकार ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी ऐसे महान व्यक्तित्व हैं जिनका जीवनवृत्त भारतीय राजनीति में सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला रहा है।

ताम्रकार ने कहा कि राष्ट्र के एकीकरण एवं विकास के लिए आजीवन संघर्षरत रहने वाले मुखर्जी ने देश की सभ्यता, संस्कृति के साथ कभी समझौता नहीं किया। वे एक बार जिस निर्णय पर डट गए तो फिर कभी पीछे नहीं हटे। वहीं भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. अजय सिंह ने भी अपने विचार रखे।

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि सांसद जनार्दन मिश्रा ने कहा कि जनसंघ से भाजपा के इस स्वर्णिम सफर को तय करते हुए वर्तमान की नरेंद्र मोदी सरकार ने धारा 370 को खत्म कर मुखर्जी को सच्चे अर्थों में श्रद्धांजलि देने का कार्य किया है। साथ ही उनके सिद्धांतों पर आधारित राजनीति को अपनाया।

कार्यक्रम का संचालन रमेश गर्ग ने किया एवं आभार शरद साहू ने व्यक्त किया। इस मोके पर प्रदेश कार्यसमिति सदस्य राम सिंह, निवर्तमान महापौर ममता गुप्ता, अर्जुन सिंह चौहान, महाबली गौतम, वीरेंद्र गुप्ता, माया सिंह, विमलेश मिश्रा, अनीता मिश्रा, प्रज्ञा त्रिपाठी, प्रबोध व्यास, उमाशंकर पटेल, कमलजीत सिंह डंग, नरेंद्र शर्मा आदि प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Mahesh Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned