किसानों के लिए अच्छी खबर, बिजली बिल से छुटकारा दिलाने किसानों को मिलेगा सोलर पंप का पूरा सेट

rewa


- 31 मार्च के पहले किसानों से आवेदन कराने का दिया गया टारगेट
- सब्सिडी के तहत सोलर पैनल और पंप सेट उपलब्ध कराने का दिया लक्ष्य


रीवा। बिजली की बढ़ती खपत और उसके बड़े बिलों से छुटकारा दिलाने किसानों को अब सोलर पंप का पूरा सेट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के तहत नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा विभाग किसानों से इसके लिए आवेदन भी ले रहा है। केन्द्र सरकार ने इस वर्ष बजट में भी यह प्रावधान किया है कि किसान अब बंजर भूमि पर ऊर्जा की खेती कर सकें, इसके लिए सब्सिडी देकर सोलर प्लांट लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। प्रदेश सरकार ने इस योजना को मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के नाम से प्रदेश में शुरू किया है। इसमें पंप के साथ ही सोलर पैनल भी लगाया जाएगा ताकि उक्त पंप के लिए बिजली वहीं पर सोलर पैनल से उत्पन्न की जा सके। इसके लिए बिजली का अलग से कनेक्शन लेने की जरूरत नहीं होगी। जिला अक्षय ऊर्जा अधिकारी एसएस गौतम ने बताया कि मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के पोर्टल के जरिए आनलाइन आवेदन लिए जा रहे हैं। यह प्रक्रिया आगामी ३१ मार्च तक चलेगी। इस अवधि में आवेदन करने वाले किसानों का दो महीने के भीतर सोलर पंप लगा दिया जाएगा। किसानों को पंजीयन के समय पांच हजार रुपए का शुल्क देना होगा।
- सोलर पंप में ऐसा होगा किसानों का अंशदान
किसानों को सोलर पंप लगाने के लिए अंशदान देना होगा। जिसमें प्रमुख रूप से एक हार्सपॉवर के पंप के लिए १९ हजार रुपए, दो हार्सपॉवर के लिए २३ और २५ हजार, तीन हार्सपॉवर के लिए ३६ हजार रुपए, पांच हार्स पॉवर के लिए ७२ हजार रुपए, साढ़े सात हार्सपॉवर के लिए १.३५ लाख रुपए जमा करना होगा। इसके पूरे सेट की शेष राशि सरकार द्वारा भुगतान की जाएगी।

Mrigendra Singh Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned