नई शिक्षा नीति में बने संशय के चलते छात्रों को किया जाएगा प्रशिक्षित

- आनलाइन प्रवेश लेने वाले छात्रों को नए विकल्प कालेज स्तर पर बताए जाएंगे
- छात्रों को प्रमोट करने की गति धीमी होने पर कालेजों को नोटिस

By: Mrigendra Singh

Published: 11 Sep 2021, 10:27 AM IST


रीवा। प्रदेश सरकार ने उच्च शिक्षा में नई शिक्षा नीति 2020 को लागू कर दिया है। जल्दबाजी में शुरू की गई इस नीति को लेकर अभी छात्रों के बीच कई संशय बने हुए हैं। जिसके चलते कालेजों के साथ शासन तक शिकायतें पहुंच रही हैं और स्थितियों को स्पष्ट करने की मांग की जा रही है। नई शिक्षा नीति को लेकर बने इस असमंजस की स्थिति पर उच्च शिक्षा विभाग ने कहा है कि छात्रों को प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने के लिए सभी कालेजों को निर्देशित किया गया है।

यह प्रशिक्षण कार्यक्रम 15 से 25 सितंबर के बीच आयोजित किया गया जाएगा। शासन द्वारा जिन प्राचार्यों और प्रोफेसर्स को नई शिक्षा नीति के संबंध में प्रशिक्षित किया जा चुका है वह छात्रों को अब जानकारी देंगे। यह प्रशिक्षण केवल सरकारी कालेज ही नहीं बल्कि निजी कालेज में भी होगा। ताकि छात्रों को आगे किस तरह से पढ़ाई करना है और उनके मन में किस तरह की शंकाएं हैं उनका समाधान किया जा सके।


- विशेषज्ञों से भी दिलवाएंगे व्याख्यान
छात्रों के मन में जो भी शंकाएं हैं उनका समाधान करते हुए मार्गदर्शन देने कालेजों में विषय विशेषज्ञ भी बुलाए जाएंगे। उद्योग एवं व्यवसाय जगत के सफल लोगों को भी बुलाया जाएगा, वह छात्रों को बताएंगे कि रोजगार मूलक शिक्षा के लिए वह किन क्षेत्रों को प्राथमिकता के आधार पर चुनें। स्थानीय स्तर से लेकर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर तक किस तरह से छात्र अपना कैरियर बनाएं इसकी भी जानकारी दी जाएगी।
-----
छात्रों को प्रमोट करने में लेटलतीफी पर नोटिस
स्नातक प्रथम वर्ष में नई शिक्षा नीति लागू की गई है। वहीं पुरानी शिक्षा पद्धति में पूर्व से पढ़ाई कर रहे स्नातक द्वितीय वर्ष, तृतीय वर्ष एवं स्नातकोत्तर तृतीय सेमेस्टर के छात्रों को प्रमोट करने के लिए कहा गया था। अब तक अधिकांश कालेजों में सभी छात्रों को प्रमोट नहीं किया गया है। जिसके चलते आगे की पढ़ाई में कठिनाइयां उत्पन्न होंगी। इस पर जिले के सभी कालेजों को उच्च शिक्षा विभाग ने नोटिस देकर कहा है कि छात्रों को प्रमोट करने की कार्रवाई के लिए ३० सितंबर तक का समय दिया गया है, इसलिए निर्धारित अवधि में प्रक्रिया पूरी कराई जाए।

Mrigendra Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned