दर्जनभर धान खरीद केन्द्रों पर बारदाना नहीं, किसान परेशान

दर्जनभर धान खरीद केन्द्रों पर बारदाना नहीं, किसान परेशान

रीवा। मप्र के रीवा जिले में जिले में दर्जनों खरीद केन्द्रों पर बारदाना नहीं होने के चलते व्यवस्था चरमरा गई है। केन्द्रों पर किसान उपज की तौल के लिए कई दिनों से धान की रखवाली कर रहे हैं। मऊगंज क्षेत्र में पटेहरा खरीद केन्द्र पर बारदाना नहीं होने से आठ दिन से तौल बंद है।

इसकी सूचना पर क्षेत्रीय विधायक विधायक प्रदीप पटेल केन्द्र पर पहुंचे और धरने पर बैठ गए। जिले में दो दर्जन से ज्यादा खरीद केन्द्रों पर बारदाना नहीं होने और धान का उठाव नहीं होने के चलते तौल बंद हो गई है। इसको लेकर किसान परेशान हैं।

बताया गया कि तराई अंचल से लेकर नईगढ़ी, मऊगंज, हुजूर और त्योंथर के कई केन्द्रों पर बारदाना नहीं हैं। तौल नहीं होने से किसान सीएम हेल्पलाइन से लेकर अफसरों से शिकायत कर रहे हैं लेकिन इसके बावजूद व्यवस्था नहीं बनाई जा रही है। चालू सीजन में लगभग 15 लाख क्विंटल तौल हो चुकी है, लेकिन अभी ऑनलाइन रिपोर्ट में आंकड़े कम हैं।

संभावना है कि लगभग बीस लाख क्विंटल धान की तौल होगी। नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारियों की लापरवाही के चलते जिले में केन्द्रों पर बारदना नहीं पहुंच पा रहा है। कई केन्द्रों पर किसानों से पैसे की मांग की जा रही है। परिवहनकर्ताओं की अनदेखी के चलते केन्द्रों से धान का उठाव नहीं हो पा रहा है।

किसानों से पैसे वसूली, असंतोष

पटेहरा खरीद केन्द्र पर बारदाना की कमी के चलते आठ दिन से तौल बंद है। मोबाइल पर मैसेज पहुंचने के बाद केन्द्र पर पहुंचे किसानों की तौल नहीं हो सकी है। केन्द्र पर किसान धान की रखवाली कर रहे हैं। किसानों ने बताया कि केन्द्र प्रभारी की मनमानी के चलते पिछले कई दिन से परेशान हैं।

किसानों ने इसकी जानकारी विधायक प्रदीप पटेल को दी। किसानों ने बताया कि केन्द्र प्रभारी कभी आते नहीं हैं। बारदाना और भराई के नाम पर पैसे की वसूली की जा रही है। मौके पर दो ट्रैक्टर धान अनलोड कर किसान रखवाली कर रहे हैं।

केन्द्र से संबंधित एक कर्मचारी मौजूद रहा। करीब दो घंटे तक विधायक धरने पर बैठे रहे। कलेक्टर के हस्तक्षेप पर जिला खाद्य आपूर्तिनियंत्रक ने विधायक से बुधवार को बोरा भेजने के आश्वासन दिया।

Bajrangi rathore
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned