गंगेव कराधान घोटाले की तर्ज पर दूसरे जिलों में भी हुआ भ्रष्टाचार

गंगेव कराधान घोटाले की तर्ज पर दूसरे जिलों में भी हुआ भ्रष्टाचार

रीवा। मप्र के रीवा जिले के गंगेव जनपद पंचायत में हुए कराधान घोटाले का मामला अब व्यापक होता जा रहा है। राज्य सूचना आयोग ने एक अपील में सुनवाई करते हुए पंचायत एवं ग्रामीण विकास के अतिरिक्त मुख्य सचिव को पत्र लिखकर कहा है कि इस तरह की आशंकाएं दूसरे जिलों में भी हो सकती हैं।

इसलिए उन सभी जिलों में जांच करा लें ताकि शासन की राशि का दुरुपयोग रोका जा सके। रीवा जिले में गंगेव जनपद पंचायत के कईग्राम पंचायतों द्वारा जो राशि टैक्स के रूप में वसूली गईथी, उसी के अधार पर शासन ने उनके विकास के लिए परफार्मेंस गारंटी की राशि दी थी।

यह राशि पंचायतों के टैक्स वसूली की करीब दस गुना दी गई थी। शासन द्वारा जो राशि भेजी गई, उसे एक ही दिन में शिवशक्ति ट्रेडर्स नाम के फर्म को भुगतान कर दिया गया। इसमें शिकायत की गईकि करीब १२ करोड़ रुपए का घोटाला जनपद के अधिकारियों और सरपंचों ने उक्त फर्म के साथ मिलकर किया है।

इसकी जांच की गईतो विभाग ने भी माना है कि करीब सात करोड़ रुपए की अनियमितता हुईहै। इस घोटाले से जुड़ी जानकारी के लिए जनपद गंगेव और कलेक्टर कार्यालय में आवेदन लगाया गया था, जहां से पूरी जानकारी नहीं दिए जाने के चलते राज्य सूचना आयोग में अपील की गईसाथ ही आवेदक शिवानंद द्विवेदी ने इसमें प्रशासनिक कार्रवाई की मांग भी की थी।

बताया गया हैकि इसी तरह प्रदेश में 1138 पंचायतों को १४वें वित्त की परफार्मेंस ग्रांड की राशि दी गईथी। जिससे पंचायतों का विकास किया जाना था। गंगेव में एक ही फर्म के जरिए करोड़ों का घपला करने का प्रयास किया गया, इसके बाद अब पूरे प्रदेश में जांच कराने के लिए कहा गया है।

इस मामले में सरपंचों ने कहा है कि उन्होंने केवल अग्रिम राशि आहरित की है लेकिन इसमें अनियमितता नहीं हुई है, जो भी राशि आहरित की गईहै, उससे पंचायतों में कार्य भी कराए जा रहे हैं। फर्म से सामग्री की सप्लाई भी कराईजा रही है। सरपंचों की इस दलील की जांच अभी चल रही है।

इन पंचायतों में जांच के बाद वसूली की तैयारी

गंगेव जनपद क्षेत्र की पंचायतों में कराधान घोटाले में प्रारंभिक जांच में कईपंचायतों की भूमिका संदिग्ध बताईगईहै। जिसमें बेलवा पैकान, बांस, लौरीखुर्द, क्योटी, रघुनाथगंज, देवास, कंदैला, मदरी, सिरसा, तेंदुआ कोठार, दुबहाई खुर्द, पनगड़ी कला, परासी, चौरी, खरहरी, अकौरी, चन्देह, बेला, टिकुरी 32, अगडाल, संसारपुर, कटहा, दुबगवां, सिसवा, पचोखर, बसौली नंबर 2, बेलवा कुर्मियान, पुरवा 310, हिरुडीह, सेंदहा आदि हैं।

जिनमें 7 करोड़ 3 लाख 8 12 रुपए की राशि वसूली होनी है। इसमें क्योंटी, रघुनाथगंज एवं सिरसा पंचायतों ने कहा है कि राशि आने के बाद उनकी ओर से आहरण नहीं किया गया है।

Bajrangi rathore
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned