नागपुर-रीवा तक बस के बौनट पर यात्रियों को यात्रा कर रहे परिचालक, रास्ते में चालक को दो बार आई झपकी

सरकार के सख्त के बाद बावजूद सवारियों की जान जोखिम में डाल कर यात्रा का रहे जिममेदार, जिले में नागपुर, इंदौर, भोपाल समेत आस-पास के राज्यों से टूर के नाम पर आ रहीं बसें, सवारियों के सुरक्षा के उपकरण एक भी नहीं

By: Rajesh Patel

Published: 20 Feb 2021, 09:24 PM IST

Operators traveling to the passengers on the bus counter to Nagpur-Rew
rajesh patel IMAGE CREDIT: patrika

रीवा. जिले के हनुमना से नागपुर चलने वाली विजयंत ट्रेवल्स की बस ओवलोड सवारियों को लेकर रीवा पहुंची। शुक्रवार की सुबह 7.40 बजे बस (एमपी-15-पीए-6644) पर कई यात्री बौनट पर बैठे थे। पुरान बस स्टैंड के सामने बस पार्सल अनलोड कर रही थी। इस बीच बौनट पर यात्रा कर कर रहे दो सवारियों ने कहा कि नागपुर से बौनट पर बैठकर सफर कर रहा हूं। करीब 100 किमी पहले से लेकर अब तक चालक को दो बार झपकी आई।
सौ रुपए कम देने पर बौनट पर बिठाया
स्लीपर बस के भीतर सीट फुल होने के बाद जमीन पर कई यात्री सो रहे थे। जिससे बैठने की जगह नहीं मिली। परिचालक की केबिन खाली थी। अधिक पैसे की मांग की। 100 रुपए कम देने पर बौनट पर बैठा दिया।
बसों में आपाताकालीन खिडक़ी जाम
बस के पिछले हिस्से में दरवााजा नहीं है। फास्र्ट एड बाक्स नहीं है। आपातकालीन खिडक़ी जाम है। चालक के पास केबिन पूरी तरह पैक हो जाती है। खिडक़ी के कई शीशे भी जाम हैं। सीट पर सवारियां यात्रा कर रहीं हैं। ऊपर एक-एक स्लीपर में चार-चार लोगों को ठूस-ठूस दिया गया। खलासी ने बताया कि 125 यात्री सफर करते हैं। आज यात्री कुद कम हैं। लंबे सफर की लग्जरी बस में बस में अग्निशमन यंत्र तक नहीं है।
पार्सल के भाड़े को लेकर भिड़ा परिचालक
शुक्रवार की सुबह 7.40 बजे नागपुर से पार्सल में बर्तन लेकर रीवा पहुंचा। पुराने बस स्टैंड पर स्थित डाकघर के सामने अनलोड करने के बाद परिचालक ने बर्तन का भाड़ा मांगा। व्यापारी भडक़ गया। दोनों के बीच कहासुनी हो गई। परिचालक ने चेतावनी दी कि अब दोबारा नहीं लोड करेंगे। मालिक ने कहा दोबार किराया नहीं देंगे। वहां पर 500 रुपए पार्सल के लिए जमा कर दिया हूं। इसके अलावा पार्सल में फल, लोहे आदि के बंडल भी अनलोड किया।

Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned