पन्ना से सतना जा रही बस अनियंत्रित होकर पलटी, एक दर्जन से अधिक घायल, दो गंभीर

एनएच 39 में मोहनगढ़ी के पास हादसा, पांच लोगों को लाया गया जिला अस्पताल, 2 गंभीर मेडिकल कॉलेज रीवा के लिए रेफर

 

पन्ना. बस स्टैंड पन्ना से यात्रियों को लेकर सतना के लिए रवाना हुई सुखेजा बस सर्विस की एक बस दोपहर में मोहनगढ़ी के समीप ग्राम बहेरा के पास अनियंत्रित होकर पलट गई। जिससे चारों ओर चीख-पुकार मच गई। राहगीरों की मदद से बस में फांसे लोगों को बाहर निकाला गया। हादसे में एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए हैं। गंभीर रूप से घायल दो लोगों को रीवा मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया है। घटना के बाद से बस में सवार यात्री डरे और सहमे हुए थे। जानकारी के अनुसार सुखेजा बस कंपनी की बस क्रमांक एमपी 19 पी 1182 मंगलवार दोपहर को यात्रियों को लेकर रवाना हुई थी। दोपहर करीब 3 बजे यह मोहनगढ़ी के आगे बहेरा के पास पहुंची, इसी बीच अचानक ड्राइवर के हाथों से अनियंत्रित होकर बस पलट गई।

बस पलटते ही मचा कोहराम
बस के पलटते ही उसमें सवार यात्रियों के बीच कोहराम मच गया। दर्द से कराहते और खून से लगपथ लोग बचाने की गुहार लगा रहे थे। वहां से गुजर रहे राहगीरों ने तुरंत डायल 100, एम्बुलेंस, पुलिस और जिला अस्पताल को घटना की जानकारी दी, साथ ही राहत और बचन कार्य शुरू किया। बस में फंसे यात्रियों को बचाने के लिए खिड़कियों में लगे शीशे तोड़े गए और लोगों का एक-एक करके बाहर निकाला गया। कुछ ही देर में पुलिस और एम्बुलेंस भी मौके पहुंच गई।

एक दर्जन से अधिक घायल

हादसे में एक दर्जन से भी अधिक लोग घायल हुए हैं। इनमें से कुछ लोग अपने से देवेंद्रनगर और सतना के अस्पताल चले गए थे। एम्बुलेंस से पांच लोगों को जिला अस्पताल लाया गया, जिनमें से घायल जीत खान (50) पिता मुनीर खान निवाशी टिकुरिया मोहल्ला पन्ना, उमेश गड़ारी (28) पिता लालाजी निवासी पथरौदा जिला सतना, छोटी कोल (65) निवासी जसो दुरेहा जिला सतना, सुनीता (29) और मयंक (4) का जिला अस्पताल लाया गया है। इसें से गंभीर हालत में जीत खान और उमेश गाडऱी को मेडिकल कॉलेज रीवा के लिए रेफर कर दिया गया है।

Panna-Satna road accident
IMAGE CREDIT: patrika

जानकारी लगते ही शहर के लोग भी भागे
बस के पलटने की जानकारी लगते ही बड़ी संख्या में लोग घटना स्थल की ओर भागे। इनमें बहुत से ऐसे लोग थे जिनके परिजन बस में सफर कर रहे थे। मौके पर पहुंचने के बाद उन्होंने डरे-सहमे यात्रियों को ढाडस बंधाया। जिला अस्पताल में भी बड़ी संख्या में नगर के लोग पहुंच गए थे।

Balmukund Dwivedi Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned