बढते कोरोना संक्रमण के बीच निजी अस्पतालों में कोविड 19 मरीजों के लिए 50 बेड

-जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या पहुंची 1300 पार
-कमिश्नरी के कर्मचारी भी संक्रमित

By: Ajay Chaturvedi

Published: 18 Sep 2020, 03:02 PM IST

रीवा. जिले में कोरोना संक्रमण के बढते केस के बीच अब सिर्फ सरकारी अस्पताल पर निर्भर रहना मुश्किल होने लगा। ऐसे में प्रशासन ने निजी अस्पतालों में भी कोरोना के इलाज की इजाजत दे दी है। निजी अस्पतालों में कोरोना के मरीजों के लिए 50 बेड सुरक्षित किए गए हैं।

शासन के निर्देश पर रीवा संभाग के कमिश्नर राजेश कुमार जैन ने निजी अस्पतालों में कोरोना के उपचार के लिए 50 बेड निर्धारित किए हैं। इस संबंध में कमिश्नर जैन ने बताया कि कोरोना के उपचार की सेवाओं के विस्तार के लिए निजी अस्पतालों में शासन द्वारा निर्धारित मापदंडों के अनुसार कोरोना रोगियों के लिए बेड निर्धारित किए गए हैं। इसके तहत आयुष्मान उपचार योजना में शामिल विंध्या हॉस्पिटल और रीवा हास्पिटल में 20-20 बेड तथा आशा कैंसर केयर सेंटर में 10 बेड निर्धारित किए गए हैं। इनमें कोरोना संक्रमित पाए जाने वाले व्यक्ति आयुष्मान योजना के तहत तथा निर्धारित दरों पर भुगतान करके अपना उपचार करा सकते हैं। सभी निजी अस्पतालों में शासन द्वारा निर्धारित मापदंडों के अनुसार कोरोना से उपचार की व्यवस्थाए की गई हैं।

इस बीच कमिश्नर कार्यालय के अधिकारियों तथा कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट कराया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा 70 व्यक्तियों का कोरोना टेस्ट रैपिड एंटीजन किट से किया गया। कमिश्नर जैन ने भी अपना कोरोना टेस्ट कराया। उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई। लेकिन जिन 70 अन्य लोगों की जांच हुई उसमें से तीन कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इनमें एक भृत्य, एक कंप्यूटर ऑपरेटर तथा एक कार्यालय सहायक शामिल हैं।

बता दें कि इससे एक दिन पूर्व एसपी कार्यालय के नौ कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए थे। कार्यालयों में कोरोना को लेकर अब कर्मचारियों में भय व्याप्त है। उधर इंडियन कॉफी हाउस के दो कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जिसके चलते प्रशासन ने उसे बंद करवा दिया है।

जिले में बीते 24 घंटे में जिले में 55 कोरोना के मरीज पाए गए हैं। इसके बाद जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 1301 हो गई है। कोरोना से स्वस्थ हुए 21मरीजों की छुट्रटी होने के बाद अब कोरोना के 456 मरीज सक्रिय हैं। सभी का इलाज अस्पताल और कोविड सेंटर में चल रहा है।

ये क्षेत्र बने कंटेन्मेंट जोन

जिले के 8 स्थानों को कंटेन्मेंट जोन में तब्दील कर दिया गया है। तहसील हनुमना के ग्राम भगदेवा में शिवेंद्र मिश्रा के घर, इसी तहसील के ग्राम टटिहरा में अरूण कोल के घर, तहसील रायपुर कर्चुलियान के ग्राम लेडुआ के वार्ड क्रमांक 11 में अनुराग मालवीय का घर एवं नगर परिषद सिरमौर के वार्ड क्रमांक 8 में कमला गुप्ता के घर को कंटेनमेंट क्षेत्र बनाने के आदेश दिये गये हैं। कलेक्टर ने तहसील सिरमौर के ग्राम दुलहरा के वार्ड क्रमांक 13 में शिवा साकेत का घर, तहसील सिरमौर के ही ग्राम तिलखन के वार्ड क्रमांक 3 में कमल प्रताप सिंह का घर, नगर परिषद बैकुंठपुर के वार्ड क्रमांक 2 में प्रवीण गुप्ता का घर तथा नगर परिषद सेमरिया के वार्ड क्रमांक 6 में अवधेश प्रसाद श्रीवास्तव के घर को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया है। कंटेनमेंट एरिया में आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned