scriptpond sagra, corruption in rewa | राजस्व कर्मचारियों के सहयोग से बेच दिया तालाब, संभागायुक्त ने कहा टीम करेगी जांच | Patrika News

राजस्व कर्मचारियों के सहयोग से बेच दिया तालाब, संभागायुक्त ने कहा टीम करेगी जांच


- कलेक्टर को पत्र लिखकर संभागायुक्त ने सगरा तालाब की भूमि बेचने के मामले में 15 दिन में मांगी रिपोर्ट

रीवा

Published: January 13, 2022 12:07:24 pm


रीवा। जिले के सगरा में स्थित सरकारी तालाब की भूमि कूटरचित तरीके से बेचने के मामले में अब संभागायुक्त ने सख्त रुख अपनाया है। इस पर कलेक्टर को पत्र लिखकर उन्होंने कहा है कि इस कूट रचना की जांच कराई जाए और जो भी दोषी हैं उन सबके विरुद्ध सख्त कार्रवाई के लिए कहा है। इस मामले में बीते दो वर्षों से शिकायतें की जा रही हंै। पूर्व में भी संभागायुक्त ने कलेक्टर को पत्र भेजा था लेकिन उस पर अब तक कोई प्रतिवेदन कलेक्टर कार्यालय की ओर से नहीं भेजा गया है। इस पर भी कहा गया है कि यदि पूर्व में जांच कराई जा चुकी है तो उससे जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध कराई जाए और यदि जांच नहीं हुई है तो कमेटी गठित कर जांच कराई जाए और दोषियों की भूमिका तय करते हुए कार्रवाई से जुड़ा प्रतिवेदन दिया जाए। सगरा का तालाब पुलिस थाने के नजदीक ही है, जिसकी बिक्री के लिए दस्तावेजों में कूटरचना की गई और रजिस्ट्री कराते समय यह नहीं बताया गया कि यह भूमि तालाब की है। मामला सामने तब आया था जब सामाजिक कार्यकर्ता बीके माला ने इसकी शिकायत की थी। जिसकी जांच में प्रथम दृष्टया पाया गया था कि तालाब की भूमि को कृषि भूमि बताकर कूटरचना करके उसकी बिक्री की गई। रजिस्ट्री के बाद नामांतरण के लिए लगाए गए आवेदन को निरस्त कर दिया गया था। कोरोना काल की वजह से इस मामले में आगे की कार्रवाई अब तक रुकी हुई थी। अब नए सिरे से कमिश्नर अनिल सुचारी ने पत्र लिखकर जांच प्रतिवेदन मांगा है। साथ ही कहा है कि यदि कूटरचना के आरोप प्रमाणित पाए जाते हैं तो संबंधित पर कार्रवाई की जाए।
--------
साढ़े नौ एकड़ क्षेत्रफल में फैला है तालाब
सगरा के तालाब का रकबा 3.871 हेक्टेयर है जो एकड़ में 9.56 एकड़ क्षेत्रफल में फैला हुआ है। इस तालाब में बाणसागर की नहरों से गर्मी के दिनों में पानी भरा जाता है। जिससे हर मौसम में यह लबालब रहता है। इसके पानी का उपयोग स्थानीय पशु-पक्षी करते हैं। संभागायुक्त ने इस मामले में लिखे पत्र में कहा है कि शासन द्वारा जल स्त्रोतों को संरक्षित करने के लिए लगातार दिशा निर्देश दिए जाते रहे हैं। इसके बावजूद तालाब की भूमि की बिक्री करने की शिकायत गंभीर है। बता दें कि सगरा में जिस तालाब को भूमाफिया हड़पने की फिराक में है, वह पुलिस थाने के नजदीक ही है।
-------------
डिजिटल प्लेटफार्म पर की गई कूटरचना
सगरा तालाब की भूमि पर भूमाफिया की नजर होने के चलते इसके दस्तावेजों में डिजिटल प्लेटफार्म पर कूटरचना की गई। जिसमें पटवारी से लेकर रजिस्ट्री लेखक और रजिस्ट्री करने वाले अधिकारी तक की भूमिका संदिग्ध है। हुजूर तहसीलदार ने कुछ समय पहले ही एक आदेश जारी कर नामांतरण का आवेदन निरस्त कर दिया गया था। जिसमें कहा गया था कि भूमि के क्रेता जगदीश प्रसाद शुक्ला निवासी गायत्री नगर रीवा की ओर से नामांतरण का आवेदन दिया गया था। इस पर आई आपत्तियों के चलते जांच कराई गई तो पता चला कि डिजिटल प्लेटफार्म पर तालाब से जुड़ी जानकारी एडिट करके छिपाई गई। आराजी के खसरे के कालम में दर्ज टीला, मेढ़, तालाब, जलाशय, भूजल की जानकारी को एडिट कर ऋण पुस्तिका से भी उक्त तथ्यों को छिपाया गया। पटवारी प्रतिवेदन में फर्जीवाड़ा करते हुए भूमि की विक्री कराई गई। तहसीलदार ने नामांतरण की प्रक्रिया निरस्त कर दी, जिसके बाद से मामला अब तक लंबित रहा है।
----------
अधिकारियों पर राजनीतिक दबाव बनाने का प्रयास
इस मामले की शिकायत दो वर्ष से लगातार अलग-अलग अधिकारियों से की जाती रही है। बताया जा रहा है कि भूमि के खरीददार का पुत्र सत्ताधारी दल का नेता है। साथ ही पूर्व में जिला पंचायत का सदस्य भी रहा है। इस कारण सत्ता से जुड़े बड़े नेताओं द्वारा कार्रवाई नहीं करने का दबाव बनाया जा रहा है। इस कूटरचना में शामिल पटवारी एवं रजिस्ट्री करने वाले अन्य जिम्मेदारों पर अब तक कार्रवाई नहीं की गई है।
------------
..तो रजिस्ट्री शून्य होगी
संभागायुक्त ने कलेक्टर को लिखे पत्र में कहा है कि जांच रिपोर्ट में यदि विक्रय पत्र शासन के दिशा निर्देशों के विपरीत पाया जाता है तो उसे शून्य घोषित करें। रजिस्ट्री को निरस्त करने की लगातार मांग की जा रही है लेकिन नामांतरण पर रोक लगाने के बाद भी अब तक रजिस्ट्री निरस्त नहीं की गई है।
--------------------
rewa
pond sagra, corruption in rewa

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां

बड़ी खबरें

पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी की पहली लिस्ट, 34 उम्मीदवारों को दिया टिकटराष्ट्रीय युद्ध स्मारक में विलय की गई अमर जवान ज्योति की लौ; देखें VIDEO'हिजाब' पर कर्नाटक के शिक्षा मंत्री के बयान पर बवाल! जानिए क्या है पूरा मामलादिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारMizoram Earthquake: मिजोरम में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर रही 5.6 तीव्रताCovid-19 Update: दिल्ली में आज आए कोरोना के 10756 नए मामले, संक्रमण दर हुआ 18.4%लापरवाही या साजिश : CBI के आने से पहले ही मिटा दिए सबूत, तिजारा फाटक ओवरब्रिज पर कराई सफाई, पुलिस ने घटनास्थल को नहीं रखा सुरक्षितIndian Army Recruitment 2022: बिना एग्जाम भारतीय सेना में भर्ती का सुनहरा मौका, ऐसे करें आवेदन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.