जानिए केजरीवाल सरकार के किस काम पर फिदा हुए कमलनाथ

जानिए केजरीवाल सरकार के किस काम पर फिदा हुए कमलनाथ

Vedmani Dwivedi | Publish: Apr, 14 2019 01:25:04 AM (IST) | Updated: Apr, 14 2019 01:32:27 AM (IST) Singrauli, Singrauli, Madhya Pradesh, India

दिल्ली सरकार ने किए हैं नवाचार

रीवा. स्कूल शिक्षा विभाग प्रदेश के शासकीय स्कूलों से करीब 30 प्राचार्यों की एक टीम दिल्ली भेज रहा है। ये प्राचार्य वहां के शासकीय स्कूलों का भ्रमण करेंगे और वहां पिछले कुछ वर्षों के दौरान स्कूलों में हुए नवाचार का अध्ययन करेंगे।

इस टीम में रीवा के एक भी प्राचार्य शामिल नहीं हैं। सतना एवं सिंगरौली से दो - दो प्राचार्यों को शामिल किया गया है।

सीधी जिले से भी स्कूल प्राचार्य को इस टीम में शामिल नहीं किया गया है।

लोक शिक्षण आयुक्त जयश्री कियावत ने दो दिन पहले ऐसा ही आदेश जारी किया है।

करीब चार महीने पहले रीवा भ्रमण पर आई कियावत ने एक कार्यक्रम में दिल्ली की स्कूलों एवं शिक्षकों की तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि कुछ ही वर्षों में दिल्ली के स्कूल अच्छे हो गए। हमें उनसे सीख लेनी चाहिए।

माना जा रहा उसी ओर कदम बढ़ाया जा रहा है। भ्रमण करने जा रहे प्राचार्य वहां के स्कूल एवं शिक्षकों से सीख लेंगे और उसे फिर यहां अमल में लाएंगे।

कुछ ही दिनों में भ्रमण के दो आदेश
शासकीय स्कूलों की हालत सुधारने के लिए कुछ दिनों पहले ही इसी तरह का एक आदेश लोक शिक्षण संचालनालय से जारी हुआ था। जिसमें शासकीय स्कूलों के शिक्षकों को जिले में ही बेहतर निजी स्कूलों का भ्रमण कर और वहां की शैक्षणिक गतिविधियां समझने के निर्देश दिए गए थे। फिर उसे अपने शासकीय स्कूलों में अमल करना है। अब फिर से आदेश जारी कर प्राचार्यों को दिल्ली की स्कूलों का भ्रमण कराया जा रहा है।

इस टीम में रीवा के प्राचार्यों को नहीं शामिल कर लोक शिक्षण संचालनालय ने यहां के शिक्षा जगत को निराश किया है।

यह है निर्देश में
प्राचार्यों को नई दिल्ली भ्रमण के लिए भेजा जा रहा है। वहां दिल्ली सरकार के स्कूलों की अध्ययन व्यवस्था तथा दिल्ली सरकार द्वारा स्कूल शिक्षा के क्षेत्र में किए गए नवाचार की समीक्षा की जाएगी। प्राचार्य 22 अप्रेल को दिल्ली स्थित मध्य प्रदेश सरकार के मध्यांचल भवन में पहुंचेगे। जहां से वे भ्रमण के लिए दल के रूप में दिल्ली सरकार के शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि के मार्गदर्शन में भ्रमण करेंगे।

प्राचार्य 22 अप्रेल एवं 23 अप्रेल को दो अलग - अलग दलों में चयनित विद्यालयों में भ्रमण करेंगे। प्राचार्य 15 - 15 के समूह में दो वाहनों से भ्रमण करेंगे। शिक्षा व्यवस्थाओं तथा नवाचारों का सूक्ष्म अध्ययन करेंगे।

सिंगरौली सतना के दो- दो शिक्षक शामिल
प्रदेश की स्कूलों के 30 प्राचार्यों की सूची में रीवा एवं सीधी के एक भी प्राचार्य नहीं है। सिंगरौली एवं सतना के दो - दो प्राचार्यों को शामिल किया गया है। सिंगरौली गिरहाडाढ़ के प्राचार्य रामकृष्ण शुक्ला एवं शा. कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के अंजनी ङ्क्षसह को शामिल किया गया है। इसी प्रकार सतना के शा.उ.मा.वि.पालदेव के प्राचार्य योगेश मिश्रा एवं शासकीय म.ल.वा के प्राचार्य कुमकुम भट्टाचार्य को शामिल किया गया है।

' रीवा एवं सीधी जिले से प्राचार्यों को इस टीम में शामिल नहीं किया गया है। सतना एवं सिंगरौली से दो - दो प्राचार्यों को शामिल किया गया है। सतना एवं सिंगरौली के जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय को निर्देश दे दिए गए हैं। वे निर्धारित समय में वहां पहुंचेंगे '।
- अंजनी कुमार त्रिपाठी, संयुक्त संचालक लोक शिक्षण

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned