PWD मंत्री अफसरों पर भडक़े, खराब सडक़ों के लिए कही यह बात, 30 तक पूरा करने दी डेडलाइन

PWD मंत्री अफसरों पर भडक़े, खराब सडक़ों के लिए कही यह बात, 30 तक पूरा करने दी डेडलाइन
PWD : PWD Minister in rewa

Rajesh Patel | Updated: 16 Sep 2019, 12:18:42 PM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

कलेक्ट्रेट सभागार में पीडब्ल्यूडी मंत्री ने संभाग के सडक़ों की समीक्षा की, अफसरों की कसी नकेल, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने सिहावल व देवसर में रेस्ट हाउस बनाए जाने का दिया सुझाव

रीवा. लोक निर्माण तथा पर्यावरण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने रीवा और शहडोल संभाग के विभागीय कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि बारिश के कारण क्षतिग्रस्त सडक़ों का काम युद्ध स्तर पर शुरू करें। खराब सडक़ें मुद्दा बनेगी इसलिए जनता की सुविधा को देखते हुए हर हाल में 30 नवम्बर तक सडक़ें गड्ढा मुक्त करें। जिससे जनता को सडक़ पर दिक्कत न हो।

अधिकारियों के अलग-अलग बयान पर भडक़े मंत्री
इस दौरान मंत्री ने अफसरों से क्षतिग्रस्त सडक़ों की तैयारी जननी चाही तो बैठक में पीडब्ल्यूडी के सीई और एसई ने अलग-अलग जवाब दिए। सीइ जीआर गुर्जे ने कहा, रीवा, सतना, सीधी और सिंगरौली में सडक़ों के सुधार के लिए टेंडर की प्रक्रिया फाइनल की ओर है। जबकि एसई वीरेन्द्र झा ने कहा अभी टेंडर नहीं हुआ है। दोनों अफसरों के अलग-अलग जवाब पर मंत्री भडक़ गए। नाराजगी व्यक्त करते हुए मंत्री ने कहा, सुधार कार्य के लिए निर्माण एजेंसी और संसाधनों की व्यवस्था 15 दिवस में अनिवार्य रूप से कर लें। सडक़ों के निर्माण और सुधार का कार्य मुख्यमंत्रीजी की उच्च प्राथमिकता में है।

सीधी-सिंगरौली की अधूरी सडक़ों को पूरा कराएं
पंचायत मंत्री कमलेश्वर पटेल ने सीधी व सिंगरौली की टूटी और अधूरी सडक़ों का मुद्दा रखा। उन्होंने देवसर तथा सिहावल में रेस्ट हाउस बनाने का सुझाव दिया और सीधी जिले की कई शालाओं में अतिरिक्त कक्ष के निर्माण में गड़बड़ी में कार्रवाई की बात कही। मामले में पीडल्यूडी मंत्री ने प्रमुख अभियंता को जांच कर कार्रवाई का निर्देश दिए। बैठक में राज्य सभा सांसद राजमणि पटेल ने सडक़ों के सुधार तथा सेमरिया, सिरमौर एवं डभौरा में रेस्ट हाउस निर्माण का सुझाव दिया। बैठक में सर्किट हाउस रीवा के विस्तार का भी सुझाव दिया गया।

207 सडक़ों में किया जा रहा सुधार
बैठक में प्रमुख अभियंता आरके मेहरा ने बताया कि संभाग में लोक निर्माण विभाग के पास 8 हजार 834 लंबाई की 1812 सडक़ें है। इनमें से 532 किलोमीटर की 207 सडक़ों में सुधार तथा 832 किलोमीटर लंबाई की सडक़ों के नवीनकरण का कार्य किया जा रहा है। संभाग में वर्तमान में 2234 किलोमीटर लंबाई की 578 सडक़ों का निर्माण जारी है। सडक़ों की मरम्मत के लिए निर्माण एजेंसी तय करने सामग्री क्रय करने की व्यवस्था एक सप्ताह में कर ली जाएगी। सडक़ों के सुधार का कार्य शुरू कर दिया गया है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned