मुख्यमंत्री ने कहा माफियाओं के कब्जे से 8 हजार करोड़ रुपए कीमत की जमीन खाली कराई

गणतंत्र दिवस पर मुख्यमंत्री ने ध्वजारोहण कर ली परेड की सलामी, कहा-प्रदेश को बनाएंगे सर्वश्रेष्ट राज्य रीवा की सुपारी कलाकृतियां व सुंदरजा आम दुनिया भर में भेजा जाएगा, शासकीय सेवकों के एरियर्स की एक-एक पाई का भुगतान होगा

By: Rajesh Patel

Published: 26 Jan 2021, 03:43 PM IST

रीवा. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गणतंत्र दिवस के अवसर पर रीवा एसएएफ ग्राउंड में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली। इस दौरान उन्होंने कहा कि चौथीबार मुख्यमंत्री बनने के बाद विंध्य की धरती पर ध्वजारोहण करने आया हूं। उन्होंने गणतंत्र दिवस के अवसर पर नेताजी सुभाषचन्द्र बोस को नमन और कहा कि सुभाष चंद्र बोस ने तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा का नारा देकर देश में आजादी की ज्योति जलाई। अंग्रेजों से अंडमान निकोबार द्वीप को आजाद कराकर नेताजी ने तिरंगा फहराया। आज उन वीरों को नमन है, जिनके त्याग और बलिदान से देश को आजादी मिली।

पिछड़ी जाति की तरह सवर्ण आयोग गठित करेंगे

उन्होंने कहा, नशे के सौदागरों से भावी पीढ़ी को खोखला नहीं होने देंगे। हर समाज के युवाओं को हम बचाएंगे। पढऩे के लिए हर वर्ग के छात्रों का खर्च भाजपा की सरकार उठाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर वर्ग के विकास के लिए पिछड़ी जाति की तरह सवर्ण आयोग गठित करेंगे। मध्य प्रदेश में दस प्रतिशत गरीब सवर्ण को आरक्षण का लाभ दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक वर्ष पहले प्रदेश में कोरोना महामारी का संकट आया। हमारे डॉक्टर, नर्स, पुलिस और प्रशासन के लोगों ने अपने प्राण संकट में डालकर आम जनता की सेवा की। देश के दूरदर्शी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में हमने कोरोना को हराने की निर्णायक लडाई लड़ी। उन्होंने कहा कि रीवा सहित पूरे विन्ध्य क्षेत्र के विकास का रोडमैप तैयार है। तेजी से काम किया जाएगा।

माफियाओं के कब्जे से 8 हजार करोड़ की खाली कराई जमीन
मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास के कार्यों के साथ भू-माफिया , खनन माफिया, नशे का सौदागरों, चिटफंड कंपनी बनाकर जनता को लूटने वाले तथा बेटियों से दुव्र्यवहार करने वालों के साथ ही धर्मान्तरण कराने वाले को मध्यप्रदेश की धरती पर नहीं रहने दिया जाएगा। पूरे प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध अभियान चलाया जा रहा है। मिलावटखोरों को नहीं छोड़ा जाउगा। मुख्यमंत्री ने कहा माफियाओं के कब्जे से 8 हजार करोड़ रुपए कीमत की जमीन खाली कराई है। जनता के 650 करोड़ रुपए माफियाओं से वसूले गए। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेटियों को आगे बढऩे का पूरा अवसर दिया जाएगा। नारी सुरक्षा और सम्मान के लिऐ पंख अभियान शुरू किया है।

किसानों को 83 हजार करोड़ से अधिक लाभ
किसानों को एक वर्ष में 83 हजार करोड़ रुपए से अधिक का लाभ दिया जा चुका है। जीरो प्रतिशत ब्याज पर कृषि ऋण की योजना पुन: शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वरोजगार तथा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने का प्रयास किए जा रहे हैं। नगरों के साथ-साथ ग्रामों के विकास के लिऐ पांच साल की कार्य योजना तैयार की जा रही है। रीवा प्रदेश का गौरवशाली जिला है। इसके विकास में किसी तरह की कोर कसर नहीं रहेगी। कोरोना संकट में प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेंहू का रेकार्ड उपार्जन हुआ। रीवा प्रदेश के पांच प्रमुख जिलों में शामिल है। गेंहू तथा धान के लिए रीवा के किसानों को एक हजार करोड़ रुपए की राशि प्रदान की गई। रीवा में सुपारी से कलाकृति बनाने की अनूठी कला तथा विशिष्ट सुंदरजा आम है। इन्हें पूरी दुनिया में बेचने की व्यवस्था की जाएगी। इनका उत्पादन बढ़ाने से स्थानीय स्तर पर रोजगार तथा जिले का आर्थिक विकास होगा।

मुख्यमंत्री ने ध्वजारोहण कर ली परेड की सलामी
गणतंत्र दिवस का रंगारंग और भव्य कार्यक्रम एसएएफ मैदान रीवा में आयोजित किया गया। बतौर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ध्वजारोहण करके परेड की सलामी ली। इस दौरान सुरक्षा बलों ने आकर्षक व मनोहारी परेड का प्रदर्शन किया। समारोह में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश तथा प्रदेश के विकास को चित्रित करती हुई विभिन्न विभागों की आकर्षक झांकियां प्रस्तुत की गईं। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर उन्मुक्त आकाश में गुब्बारों का उड्डयन किया। उन्होंने परेड कमाण्डर एवं प्लाटून कमाण्डरों से परिचय प्राप्त किया। इस दौरान मध्यप्रदेश गान का गायन भी हुआ। पुलिस बल ने हर्ष फायर कर महामहिम राष्ट्रपति की जय का उद्घोष किया।

Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned