इस तालाब में आखिर ऐसा क्या है कि हर कोई बचाने के लिए आ रहा आगे, कड़ी धूप में क्यों धरने पर बैठे लोग

इस तालाब में आखिर ऐसा क्या है कि हर कोई बचाने के लिए आ रहा आगे, कड़ी धूप में क्यों धरने पर बैठे लोग

Mrigendra Singh | Publish: May, 17 2019 09:23:49 PM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

सुबह से दोपहर तक तालाब के पास धरने पर रहे लोगों ने आंदोलन की बनाई रणनीति


रीवा। शहर के रघुराजसागर तालाब में हो रहे अतिक्रमण के विरोध में स्थानीय लोगों ने अब मैदान में उतरकर मोर्चा खोल दिया है। अब तक शिकायतें कलेक्टर, नगर निगम सहित अन्य कई स्थानों पर की जा चुकी हैं। प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं किए जाने के चलते स्थानीय लोगों ने तालाब परिसर में ही धरना दिया।

वहीं जन संगठनों के लोगों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर ज्ञापन सौंपा और कहा कि तालाब में चल रहे अतिक्रमण पर रोक लगाई जाए अन्यथा विरोध और भी उग्र होगा। शहर के वार्ड क्रमांक दो लखौरीबाग में स्थित रघुराजसागर तालाब के पास स्थानीय लोगों ने एक बैठक की। यहां पर विरोध कर रहे अधिवक्ता शिव सिंह ने लोगों के बताया कि रघुराजसागर तालाब को महाराजा रीवा द्वारा आम जानता के निस्तार के लिए दिया गया था। उक्त तालाब का रकवा 58.33 एकड़ है ।

कुछ समय पहले कूट रचना का सहारा लेकर डॉ. एनसी चौरसिया के नाम पर इसे कर दिया गया। कब्जा जमाने का प्रयास भी शुरू किया गया था लेकिन उस दौरान हुए विरोध के चलते अतिक्रमण हटा दिया गया था। अब बीते २२ अप्रेल से फिर तालाब में कब्जा करने का प्रयास शुरू है। उन्होंने कलेक्टर और निगम के अधिकारियों को की गई शिकायत की जानकारी देते हुए कहा कि प्रशासन भी दबाव में है। इसलिए कोई कार्रवाई नहीं हो रही है, इसलिए अब आंदोलन ही एक मात्र सहारा है। स्थानीय लोगों ने बताया कि रात्रि के समय यहां पर अतिक्रमण हो रहा है।

बैठक में राष्ट्रसेवा दल के प्रमुख वृहस्पति सिंह, बद्री प्रसाद कुशवाहा, महेश्वरी त्रिपाठी, मदन सिंह, सिद्धार्थ श्रीवास्तव, विश्वनाथ खारौल, सुनील अग्रवाल, रमेश सिंह, उपेन्द्र पाण्डेय, नारायण विश्वकर्मा, चॉद शाह, मंगल पासी, कल्लू यादव, विजय मौर्य, किशन चौधरी, पन्नालाल साहू, मोहन यादव, लाला यादव, शकुंतला विश्वकर्मा, सुशीला सिंह, सुमित्रा यादव, ललित यादव, रामकिशोर, शंकर प्रसाद, सतेन्द्र सिंह सहित अन्य मौजूद रहे।


- तालाब का स्वरूप नहीं बदलनें देंगे
जन संगठनों की ओर से कलेक्टर के नाम प्रेषित ज्ञापन एसडीएम विकास सिंह को सौंपा गया। इस दौरान अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह बघेल ने कहा कि दो दशक पहले भी इसी तरह षडय़ंत्र रचा गया था, अब फिर रातोंरात कब्जा हो रहा है। इसलिए चेतावनी देने आए हैं कि प्रशासन रोके अन्यथा हम सब सामने आएंगे। इस दौरान कौशल सिंह, सुभाष श्रीवास्तव, रामेश्वर सोनी, शिव सिंह, मास्टर बुद्धसेन पटेल, रामायण सिंह, धीरेश सिंह गहरवार, विश्वनाथ पटेल, अभय वर्मा सहित अन्य मौजूद रहे।
-
रघुराजसागर तालाब की भूमि पर अतिक्रमण करने की शिकायत मिली है। कहा जा रहा है कि तालाब का स्वरूप बदलने का प्रयास हो रहा है। इसकी जांच कर आवश्यक कार्रवाई करेंगे।
विकास सिंह, एसडीएम हुजूर

 

rewa
MrigendraSingh IMAGE CREDIT: patrika

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned