रीवा. पुलिस विभाग द्वारा टूटते परिवारों को जोड़ने के लिए लंबे समय से एक नई पहल की जा रही है , जिसमें विशेषज्ञ और समाजसेवियों के माध्यम से बिखरते परिवारों को बुलाकर काउंसलिंग कराई जाती है । परिवार परामर्श केंद्र का आयोजन पुलिस कंट्रोल रूम में किया जाता है आयोजित परिवार परामर्श केंद्र में 76 प्रकरणो के दोनों पक्षों को बुलाया गया था जिसमें 55 परिवार उपस्थित हुए थे , उपस्थित परिवारों में काउंसलर के द्वारा काउंसलिंग किए जाने के बाद 41 प्रकरणों में काउंसलिंग की गई , जबकि 14 प्रकरणों में सिर्फ एक ही पक्ष उपस्थित हो पाया ।

काउंसलर के द्वारा 15 प्रकरणों में समझौता करवाया गया वहीं 16 में समझौता ना होने के चलते आगे की पेशी दी गई है , जबकि 3 ऐसे मामले सामने आए जिनमें कार्यवाही का प्रस्ताव दिया गया पुलिस विभाग के द्वारा परिवार परामर्श केंद्र के माध्यम से बिखरते दो परिवारों को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है और आपसी समझौते के तहत ना किसी की हार और ना किसी की जीत होती है जिसके चलते परिवार परामर्श केंद्र के शिविर आयोजन को सफलता मिल रही है । केंद्र में ज्यादातर ऐसे मामले आए जिनमें पति पत्नी के बीच में या तो तीसरी महिला परिवार चलने में बाधा बन रही है या तो शराब नशे की आदत के चलते पति पत्नी को प्रताड़ित कर रहा है , वहीं कुछ मामलों में दहेज आडे आया । आयोजित शिविर में काउंसलर द्वारा समझाइश दिए जाने के बाद पति पत्नी एक साथ रहने को राजी हुए और मेहनत कर परिवार चलाने का निश्चय किया ।

[MORE_ADVERTISE1][MORE_ADVERTISE2]

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned