सीएम हेल्पलाइन की प्रदेश रैकिंग में रीवा फिसड्डी, कलेक्टर ने अफसरों की कसी नकेल

कलेक्टर ने टीएल बैठक के दौरान सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों में लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई का दिया आदेश

रीवा. सीएम हेल्पलाइन पर जनता की शिकायतों के निराकरण में रीवा प्रदेश स्तरीय रैकिंग में फिसड्डी है। रैकिंग डी-श्रेणी पर होने के चलते कलेक्टर ने टीएल बैठक में जिम्मेदारों की नकेल कसी है।

कलेक्टर बसंत कुर्रे ने टीएल बैठक में समय सीमा के पत्रों के साथ ही सीएम हेल्पलाइन में विभिन्न विभागों में लंबित शिकायतों की समीक्षा की। इस दौरान कलेक्टर ने सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों के निराकरण में शिथिलता बरतने पर संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई का फरमान सुनाया है।

उन्होंने कहा कि एल-1 स्तर से लेकर एल-4 स्तर तक की शिकायतों का अधिकारी स्वयं परीक्षण करें तथा उनके निराकरण में तत्परता बरतें। कलेक्टर ने राजस्व विभाग की शिकायतों को अभियान चलाकर कम कम किए जाने का निर्देश दिया है।

बैठक में कलेक्टर ने कहा रीवा शहर में विभिन्न निर्माण कार्यों के कारण प्रदूषण पर प्रदूषण नियंत्रण मंडल को तत्काल कार्यवाही की जाए। कलेक्टर ने कहा कि प्रदूषण के कारण शहर के रहवासी दिक्ककत का सामना कर रहे हैं। निर्माण एजेन्सियां प्रदूषण नियंत्रण के मानकों का पालन कराएं व प्रदूषण कम होने के इंतजाम सुनिश्चित करें।

उन्होंने आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक को वन मित्र पोर्टल में फीडिंग शीघ्र कराकर अपेक्षित प्रगति के निर्देश दिए। बैठक में सीईओ जिला पंचायत अर्पित वर्मा, अपर कलेक्टर इला तिवारी, संयुक्त कलेक्टर एके झा, अंजलि द्विवेदी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Mahesh Singh Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned