MP election 2018: कांग्रेस ने जारी किया 'वचन पत्र', जानिए सरकार बनी तो विंध्य के लिए क्या होगा खास

MP election 2018: कांग्रेस ने जारी किया 'वचन पत्र', जानिए सरकार बनी तो विंध्य के लिए क्या होगा खास

Mrigendra Singh | Publish: Nov, 10 2018 10:13:20 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 10:13:21 PM (IST) rewa, madhya pradesh, india

- प्रदेश उपाध्यक्ष पुष्पराज सिंह, जिला अध्यक्ष सहित अन्य ने प्रेसकांफ्रेंस कर दी जानकारी

 

रीवा। कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा चुनाव के लिए जनता के सामने वचन पत्र जारी किया है। जिसमें किसानों और युवाओं को लेकर सबसे अधिक फोकस है। भोपाल में इसके जारी होने के तत्काल बाद रीवा में भी कांग्रेस नेताओं ने जारी कर दिया।
पूर्व से चली आ रही सरकार की कई योजनाओं को व्यवस्थित कर नए सिरे से संचालित करने की बात कही गई है। वचन पत्र का पहला बिन्दु भ्रष्टाचार मुक्त मध्यप्रदेश बनाने की बात कही गई है। पूर्व में की गई घोषणा के अनुसार दो लाख रुपए तक का कर्जा किसानों का माफ करने और बिजली बिल आधा करने का भी उल्लेख है। समर्थन मूल्य पर अन्य कई फसलें और सब्जियां खरीदने के साथ ही बोनस भी दिया जाएगा। इसी तरह दूध पर पांच रुपए प्रति लीटर की दर से बोनस मिलेगा।
कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष पुष्पराज सिंह, जिला अध्यक्ष त्रियुगीनारायण शुक्ला, जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा, रमाशंकर सिंह पटेल, विद्यावती पटेल, बबिता साकेत, पर्यवेक्षक विजय चौबे, मनोज त्रिवेदी, विधि सिंह, प्रदेश प्रवक्ता बृजेश पाण्डेय आदि ने जारी किया है। कहा गया है कि कांग्रेस की सरकार बनी प्रदेश को मादक पदार्थ मुक्त बनाएंगे। 112 पेज के इस वचन पत्र में हर क्षेत्र के लोगों के लिए योजनाएं गिनाई गई हैं।
बाणसागर सहित अन्य बड़े बाधों में मत्स्य शोध एवं प्रशिक्षण संस्थान खोलने, चंदेलकालीन तालाबों के गहरीकरण, पान की खेती को प्रोत्साहित करने के लिए पान अनुसंधान केन्द्र खोलने आदि की घोषणा की गई है। प्रदेश के कई घोटालों की जांच नए सिरे से कराए जाने का भी वचन दिया गया है। इसमें रीवा से जुड़े प्रमुख घोटालों में डंपर घोटाला, सहकारी बैंक घोटाला, छात्रवृत्ति घोटाला, व्यापमं घोटाला सहित अन्य शामिल हैं।

हर पंचायत में गौशाला खुलेगी
कांग्रेस की घोषणा पत्र समिति की रीवा में हुई बैठक में इसकी मांग कार्यकर्ताओं ने उठाई थी कि आवारा मवेशी और जंगली जानवर सबसे अधिक समस्या हैं। वचन पत्र में कहा गया है कि हर ग्राम पंचायत में गौशाला खोली जाएगी। साथ ही गौ अभयारण्य भी बनाए जाएंगे।

गोविंदगढ़ को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा
गोविंदगढ़ का धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व रहा है। इसे भी कांग्रेस ने वचन पत्र में शामिल किया है। कहा गया है कि पर्यटन की दृष्टि से इसका विकास किया जाएगा। इसी तरह प्रदेश के अन्य ऐतिहासिक महत्व के स्थलों को भी स्पेशल पैकेज दिया जाएगा।

प्रत्याशियों ने अपनी तीन-तीन प्राथमिकताएं गिनाई
वचन पत्र जारी करते समय पांच प्रत्याशी मीडिया के सामने आए और अपने क्षेत्र की समस्याएं गिनाईं।
रीवा- अभय मिश्रा ने कहा कि जनता के लिए सुलभ विधायक, सरकारी भूमि की लूट की जांच, युवाओं को रोजगार के साधन मुहैया कराना, भय मुक्त वातावरण का निर्माण प्राथमिकता होगी।
त्योथर- प्रत्याशी रमाशंकर सिंह पटेल ने कहा कि सिविल अस्पताल, नहरों का रुका अधूरा कार्य, आवारा मवेशियों की समस्या का समाधान प्रमुख मुद्दा होगा।
देवतालाब- विद्यावती ने कहा कि देवतालाब मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए सुविधाएं, पर्यटन को बढ़ाने, आवारा मवेशियों की समस्याएं और पानी एवं सड़क प्रमुख मुद्दे होंगे।
सेमरिया- त्रियुगीनारायण शुक्ला ने सीमेंट कंपनियों में स्थानीय युवाओं को रोजगार, जरमोहरा बांध में पानी और जंगली एवं आवारा जानवरों की समस्याओं को मुद्दा बताया।
मनगवां- बबिता साकेत ने कहा है कि मनगवां में सिविल अस्पताल और ट्रामा सेंटर की स्थापना पहली प्राथमिकता है। किसानों के लिए पानी भी प्राथमिकता में है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned