बबली गिरोह को रोकने जंगल में उतरी रीवा पुलिस

बबली गिरोह को रोकने जंगल में उतरी रीवा पुलिस
Rewa police descended into forest to stop Babli gang

Mahesh Kumar Singh | Updated: 10 Sep 2019, 09:59:58 PM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

सतना व यूपी सीमा से लगे जंगलों में की जा रही सर्चिंग

रीवा. सतना जिले से बबली कोल द्वारा किए गए अपहरण के बाद अब रीवा पुलिस भी अलर्ट हो गई है। पुलिस जंगल में उतर गई है जो डकैतों की तलाश में सर्चिंग कर रही है। सतना जिले के धारकुंडी थाना क्षेत्र से बबली कोल गिरोह ने किसान का अपहरण किया है। सेमरिया थाना क्षेत्र का इलाका सतना से लगा हुआ है और डकैत गिरोह आसानी से रीवा के जंगलों में पनाह लेते हैं।

इसको देखते हुए एसपी आबिद खान के निर्देश पर सेमरिया थाना प्रभारी दिलीप दहिया द्वारा फोर्स के साथ यूपी सीमा से लगे का ककरेड़ी, मैंनहा, कटाई, जदुआ सहित अनेक जंगलों में सर्चिंग की जा रही हैं। पुलिस इस बात का प्रयास कर रही है कि डकैत गिरोह छुपने के लिए रीवा के जंगलों में मूवमेंट न कर सके।

पुलिस ने न केवल जंगल में सर्चिंग की बल्कि जंगल के आसपास के ग्रामीणों से भी डकैतों के संबंध में जानकारी ली। बबली कोल गिरोह की कई बार लोकेशन पुलिस को सेमरिया थाना क्षेत्र के जंगलों में मिली है। पहले भी उसने कई बार सेमरिया सहित तराई अंचल के जंगलों में पनाह ली है। इसको देखते हुए पुलिस अहतियात के तौर पर जंगल मेंं सर्चिंग कर रही है।

कटाई से कर चुका है किसान का अपहरण
डकैत बबली कोल करीब डेढ़ वर्ष पूर्व सेमरिया थाना क्षेत्र के कटाई गांव से कृषक ललित सिंह का अपहरण कर चुका है। जिनको 5 लाख रुपए की फिरौती लेने के बाद गिरोह ने छोड़ा था। डकैतों की सक्रियता से एक बार फिर सीमावर्ती इलाकों में बसे गांव के लोग दहशत में हैं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned