सैनिक स्कूल में 85 सीटों पर प्रवेश के लिए 6455 होनहारों के बीच प्रतिस्पर्धा

सैनिक स्कूल में प्रवेश पाने दी परीक्षा, शहर के 16 केन्द्रों पर थी व्यवस्था

 

By: Manoj singh Chouhan

Published: 06 Jan 2020, 12:00 AM IST

रीवा. सैनिक स्कूल रीवा में कक्षा 6वीं एवं 9वीं में प्रवेश के लिए रविवार को परीक्षा आयोजित की गई। परीक्षा में देशभर के 6455 स्टूडेंट्स शामिल हुए। शहर में परीक्षा के लिए 16 केन्द्र बनाए गए थे। परीक्षा सुबह 10 बजे से 12.30 तक चली। परीक्षा केन्द्रों पर सुबह 8 बजे से ही स्टूडेंट्स अपने-अपने अभिभावकों के साथ पहुंच गए। खास बात यह रही कि इस बार बालिकाएं भी प्रवेश परीक्षा में शामिल हुईं। 6वीं कक्षा के लिए 70 एवं 9वीं कक्षा के लिए 15 छात्रों को प्रवेश दिया जाना है।

परीक्षा में शामिल होने के लिए सैनिक स्कूल ने 5 अगस्त 2019 से 23 सितंबर के बीच स्टूडेंट्स से ऑनलाइन आवेदन मंगाए थे। जिसमें 6वीं कक्षा के लिए 4556 छात्रों ने एवं 9वीं कक्षा के लिए 2914 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था।

रविवार को हुई परीक्षा में रजिस्ट्रेशन कराने वाले कुछ छात्र शामिल नहीं हुई। जिसकी वजह से रजिस्ट्रेशन की अपेक्षा उपस्थित छात्रों की संख्या कम हो गई। ६वीं कक्षा में 4010 स्टूडेंट्स एवं 9वीं कक्षा में 2445 स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी। परीक्षा के लिए देशभर के छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। जो एक दिन पहले शनिवार को ही शहर में आ गए थे। रविवार को परीक्षा केन्द्र पर सुबह से ही स्टूडेंट्स अपने अभिभावकों के साथ पहुंच गए।

चौकस रही व्यवस्था

परीक्षा के दौरान छात्रों को कोई दिक्कत न हो इसके लिए केन्द्रों पर चौकस व्यवस्था की गई थी। छात्रों को कोई दिक्कत नहीं हुई। आसानी से परीक्षा देने के बाद मुस्कुराते हुए परीक्षा केन्द्र से बाहर निकले। शहर में सैनिक स्कूल रीवा के साथ ही पीके स्कूल, मॉडल हायर सेकंडरी स्कूल, हायर सेकंडरी स्कूल मार्तण्ड नं. - 2 सहित कुछ 16 केन्द्र बनाए गए थे। परीक्षा देने के बाद सभी स्टूडेंट्स अपने अभिभावकों के साथ घर के लिए निकल लिए। उत्तर प्रदेश, दिल्ली, बिहार, राजस्थान सहित कई प्रदेशों से छात्र परीक्षा देने पहुंचे।

सैनिक स्कूल में प्रवेश पाने दी परीक्षा, शहर के 16 केन्द्रों पर थी व्यवस्था
Show More
Manoj singh Chouhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned