MP की सियासत में CM शिवराज ने चला महत्वपूर्ण दांव

-सियासी हलकों में चर्चाएं तेज

By: Ajay Chaturvedi

Published: 28 Jan 2021, 05:42 PM IST

रीवा. अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक आयोग की तर्ज पर मध्य प्रदेश में अब सवर्ण आयोग का गठन किया जाएगा, जो सामान्य वर्ग के गरीबों के हित में काम करेगा। ये कहना है सूबे के सीएम शिवराज सिंह चौहान का। स्थानीय निकाय चुनाव से पहले सीएम के इस बयान को राजनीतिक हलकों में प्रमुखता से लिया जा रहा है।

बता दें कि चौहान के मुख्यमंत्रित्व काल वाली पिछली सरकार में ही सामान्य निर्धन वर्ग कल्याण आयोग था, अब इसका पुनगर्ठन होगा। गणतंत्र दिवस के मौके पर रीवा में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस आशय की घोषणा की। उन्होंने कहा कि आने वाले चार साल में सभी गरीबों को पक्के मकान दिए जाएंगे, 2024 तक हर घर को पानी का कनेक्शन मिल जाएगा।

मुख्यमंत्री ने यह घोषणा न केवल रीवा में की बल्कि इसे सतना में भी दोहराया। फिर देवास में भी कहा कि अब जल्द ही प्रदेश में सवर्ण आयोग गठित किया जाएगा जो गरीब सवर्णों के हित में काम करेगा। अब गणतंत्र दिवस के बाद से सियासी हलकों में सीएम की इस घोषणा के कई निहितार्थ निकाले जाने लगे हैं। सियासी हलचल तेज हो गई है। राजनीतिक गलियारों में इसे मुख्यमंत्री के सवर्ण कार्ड के रूप में देखा जा रहा है।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned