सांसद जनार्दन मिश्र के अंगरक्षक का लटकता मिला शव, पिता ने कहा हत्या हुई

-पुलिस ने शव को कब्जे में पोस्टमार्टम को भेज पड़ताल शुरू की

By: Ajay Chaturvedi

Published: 20 Jul 2020, 03:22 PM IST

रीवा. सांसद जनार्दन मिश्र के अंग रक्षक एसएएफ जवान अनिल प्रताप सिंह का शव संदिग्ध हाल में लटकता पाए जाने के बाद जिले भर में सनसनी फैल गई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को उतार कर उसका पंचनामा कराया फिर पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए पड़ताल शुरू कर दी है। इस बीच एसएएफ जवान के पिता सत्यवान सिंह ने इसे हत्या का मामला करार दिया है। उनका कहना है कि मेरे बेटे ने खुदकुशी नहीं की बल्की उसकी हत्या की गई है।

सांसद के अंगरक्षक के पिता सत्यवान सिंह ने आरोप लगाया है कि उनके पुत्र ने आत्महत्या नहीं की है बल्कि उसकी हत्या की गई है। उन्होंने गांव के ही रजनीश सिंह एवं उनकी पत्नी अर्चना सिंह पर हत्या का आरोप लगाया है। सत्यभान सिंह का आरोप है कि बीती रात रिश्ते के भाई एवं भाभी अर्चना ने अनिल को निमंत्रण पर अपने घर बुलाया था। रात बीत जाने के बाद सुबह अनिल का शव फांसी पर लटकता मिला। उन्होंने कहा कि गांव वाले लगातार आरोप लगाते रहे हैं कि अनिल प्रताप सिंह एवं अर्चना सिंह के बीच अवैध संबंध रहा है। ग्रामीण बराबर यह कहते रहे कि अगर तुम्हारा लड़का नहीं सुधरा तो उसकी हत्या भी हो सकती है।

अनिल प्रताप सिंह की 28 वर्षीय पत्नी गुड़िया ने भी आरोप लगाया है कि उसके पति का संबंध गांव के है रजनीश की पत्नी अर्चना के साथ रहा है। अर्चना अक्सर घर आया करती थी जिसका वह लगातार विरोध करती रही। लेकिन पति विरोध करने पर उसके साथ मारपीट करने पर उतारू हो जाता थे। कई बार चाह कर भी वह खुलकर विरोध नहीं कर पाई।

इस संबंध में जब सांसद जनार्दन मिश्रा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि आज सुबह उन्हें तब पता चला जब उन्होंने अंगरक्षक के घर न पहुंचने पर फोन कर जानकारी ली। उन्होंने बताया कि 1 माह पूर्व ही अनिल प्रताप सिंह को उनके बंगले पर बतौर अंगरक्षक तैनात किया गया था। वह हमेशा ड्यूटी पर उपस्थित रहता था।

"एसएएफ के जवान अनिल प्रताप सिंह का शव फांसी पर लटकता हुआ मिला है। मुकदमा दर्ज कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी गई है। पत्नी व पिता ने अवैध संबंध के चलते हत्या का आरोप लगाया है पूरे मामले की जांच की जा रही है।" - शिवेंद्र सिंह बघेल, सिटी एसपी रीवा

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned