किशोरी ने फंदा लगाकर की आत्महत्या, पड़ोस में युवक ने खाया जहर

सोहागी थाने के पचामा में हुई घटना, पुलिस मौके पर पहुंची

By: Shivshankar pandey

Published: 13 May 2021, 08:41 PM IST

रीवा। किशोरी ने रात में कमरे के अंदर फंदा लगाकर आत्महत्या कर लिया। सुबह पड़ोस में रहने वाले युवक ने जहर निगल कर मौत को गले लगा लिया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस फिलहाल मर्ग कायम कर घटना की जांच की जा रही है।

रात में किशोरी ने लगाया था फंदा
सोहागी थाना अन्तर्गत पचामा निवासी आरती माझी पिता जीवनलाल 17 वर्ष ने देर रात घर के अंदर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। रात में वह परिजनों के साथ खाना खाकर कमरे में सोने में चली गई। परिजनों के सोने के बाद देर रात उसने यह आत्मघाती कदम उठा लिया। सुबह जब परिजनों की नींद खुली तो कमरे के अंदर शव लटक रहा था। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई।

कुछ देर बाद युवक ने खाया जहर
पुलिस घटनास्थल का निरीक्षण कर रही थी तभी पड़ोस में रहने वाले अनिराश माझी पिता देवमुनि 18 वर्ष ने जहर का सेवन कर लिया। कुछ देर बाद युवक की हालत बिगडऩे लगी जिस पर परिजनों को घटना की जानकारी हुई। तत्काल वे युवक को इलाज के लिए अस्पताल लेकर आए जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक परीक्षण के बाद मृत घोषित कर दिया। पुलिस मर्ग कायम कर घटना की जांच कर रही है।

घटना के कारणों की जांच कर रही पुलिस
एक मोहल्ले में दो लोगों द्वारा आत्महत्या करने के मामले की पुलिस फिलहाल जांच कर रही है। प्रारंभिक जांच में परिजनों ने परिजनों ने दोनों घटनाओं में किसी तरह का संबंध होने से इंकार किया है। किशोरी की शादी तय हो गई थी और जल्द उसकी शादी होने वाली थी। पुलिस इस बात की संभावना जता रही है कि किशोरी द्वारा अत्महत्या करने से दु:खी होकर युवक ने यह आत्मघाती कदम उठाया है। फिलहाल पुलिस घटना की जांच कर वास्तविक कारणों का पता लगाने में जुटी है।

घटना की चल रही जांच
किशोरी ने फंदा लगाकर आत्महत्या की और पड़ोस में रहने वाले युवक ने जहर का सेवन कर जान दे दी। मर्ग कायम कर घटना की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही घटना के वास्तविक कारण सामने आऐेंगे। जांच के बाद ही आगे कार्रवाई की जायेगी।
पवन शुक्ला, थाना प्रभारी सोहागी

Show More
Shivshankar pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned