खनिज मंत्री का गृह जिला: पकड़े गए ओवरलोड ट्रकों में घटा दी खनिज की मात्रा, 90 हजार का जुर्माना कर दिया 62 हजार

खनिज कारोबारियों पर कृपा कर खजाने को लगा रहे चपत, -कलेक्टर कार्यालय को भेजे गए प्रतिवेदन में अधिकारियों का कागजी खेल

रीवा. खनिज का अवैध कारोबार करने वालों पर खनिज विभाग के अधिकारी मेहरबान हैं। सप्ताहभर पहले त्योंथर में पकड़े गए आधा दर्जन से अधिक ट्रक संचालकों को फायदा पहुंचाने के लिए खनिज कार्यालय में कागजी खेल कर रहे हैं। जिससे कारोबारियों को कम से कम अर्थदंड देना पड़ेगा।

त्योंथर क्षेत्र में पकड़े गए थे सात ट्रक

खनिज कार्यालय के दस्तावेज के अनुसार त्योंथर क्षेत्र में तहसीलदार और खनिज इंस्पेक्टर की संयुक्त कार्रवाई के दौरान सात ट्रक पकड़े गए थे। पकड़े गए ट्रक गिट्टी और रेत का ओवरलोड परिवहन कर रहे थे। ट्रकों के संचालकों को कम से कम अर्थदंड देना पड़े, इसलिए ट्रकों में लोड खनिज की मात्रा कम कर दी गई है। खनिज अधिकारी की ओर से कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत किए गए प्रतिवेदन में ऐसा ही किया गया है। जिससे अवैध कारोबारियों को लाखों रुपए का फायदा होगा।

35 घनमीटर को प्रतिवेदन में कर दिया 28 घन मीटर

दस्तावेज के अनुसार पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जिले के शंकरगढ़ निवासी संतोष कुमार सोनी का ट्रक (यूपी-4313टी-7813) में करीब 35 घनमीटर खनिज का ओवरलोड परिवहन पकड़ा गया था। लेकिन, खनिज विभाग की ओर से प्रतिवेदन में 28 घन मीटर का ही जिक्र किया गया है। प्रति घन मीटर 100 रुपए की दर से रॉयल्टी पर बाजार मूल्य का 25 गुना प्रति घन मीटर अर्थदंड प्रस्तावित किया गया है। 25 घन मीटर के लिए 60 हजार रुपए का अर्थदंड है। वहीं 35 घन मीटर के आधार पर अर्थदंड ९० हजार रुपए से अधिक जुर्माना प्रस्तावित किया जाता। इसी तरह एसके राय का ट्रक (यूपी-63टी 6039) 25 घन मीटर का प्रस्ताव तैयार किया गया है। जबकि इस ट्रक को ओवरलोड परिवहन और दस्तावेज नहीं दिखने के आरोप में पकड़ा गया है। खनिज अधिकारी की ओर से 62300 रुपए जुर्माना प्रस्तावित किया गया है। इस ट्रक पर करीब ३० घन मीटर गिट्टी लोड की गई है। सभी को मिलाकर करीब पांच लाख रुपए का अर्थदंड प्रस्तावित किया गया है।

भय से बंद कर दी कार्रवाई

त्योंथर में ओवरलोड परिवहन कर रहे ट्रकों के पकड़े जाने की कार्रवाई के दौरान विधायक के बेटे के हंगामे के बाद जिम्मेदार इस कदर भयभीत हो गए हैं कि कार्रवाई बंद कर दी गई है। -खनिज का बेखौफ ओवरलोड परिवहन जिले में अफसरों की अनदेखी के चलते बैखौफ खनन और उसका ओवरलोड परिवहन किया जा रहा है। अधिकारियों से की गई शिकायत के अनुसार जिले में सबसे ज्यादा ओवरलोड परिवहन बनकुंइया, मनगवां, चाकघाट, हनुमना, मऊगंज क्षेत्र में किया जा रहा है। इसी तरह सेमरिया, त्योंथर तहसील में खनन का अवैध कारोबार चल रहा है।

Rajesh Patel
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned