MP में मिला विस्फोटक का जखीरा, देखकर पुलिस के उड़े होश

MP में मिला विस्फोटक का जखीरा, देखकर पुलिस के उड़े होश

Manoj Kumar Singh | Publish: Apr, 10 2019 01:41:24 AM (IST) | Updated: Apr, 10 2019 01:43:12 AM (IST) Rewa, Rewa, Madhya Pradesh, India

चोरहटा पुलिस ने तमरी गांव स्थित भवानी क्रशर प्लांट में दी दबिश, मैनेजर गिरफ्तार, 82 जिलेटिन राड व 1000डिटोनेटर जब्त

रीवा. सप्ताहभर के भीतर पुलिस ने दूसरी बड़ी कार्रवाई करते हुए क्रशर प्लांट के कार्यालय में दबिश देकर विस्फोटक का जखीरा जब्त किया है। मैनेजर को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। बड़ी मात्रा में विस्फोटक मिलने से क्षेत्र में खलबली मची हुई है। चोरहटा थाना के तमरी स्थित भवानी स्टोन क्रशर में सोमवार रात पुलिस को विस्फोटक सामग्री होने की सूचना मिली थी।

एसपी ने तत्काल थाना प्रभारी अनिमेश द्विवेदी, उपनिरीक्षक वीरेन्द्र सिंह परिहार के नेतृत्व में टीम गठित कर दी। टीम ने देर रात करीब दो बजे क्रशर प्लांट के आफिस में दबिश दी। जब कार्यालय की तलाशी लिया तो अंदर रखा विस्फोटक का जखीरा पुलिस के हाथ लग गया। पुलिस ने कार्यालय में मौजूद मैनेजर दीपक सिंह पटेल निवासी लौलाच थाना कोटर जिला सतना को हिरासत में ले लिया है। तड़के पुलिस सारा विस्फोटक लेकर थाने पहुंची।

पत्थर तोडऩे के लिए मंगवाते थे विस्फोटक

मैनेजर पटेल से पुलिस ने पूछताछ शुरू कर दी है। क्रशर में यह विस्फोटक सामग्री पत्थर तोडऩे के लिए मंगाई जाती थी। चोरीछिपे विस्फोटक का इस्तेमाल कर पत्थर तोड़ा जाता था। क्रशर संचालक के पास विस्फोटक रखने का लाइसेंस नहीं था और वह चोरी छिपे इसे मंगवाकर पत्थर तुड़वाता था। इसके अलावा विस्फोटक सामग्री की बिक्री की भी सूचना पुलिस को मिली है।

सतना के सप्लायर का फिर सामने आया नाम

जिले में विस्फोटक सप्लाई सतना का पियूष जैन कर रहा है। पकड़े गए क्रशर के मैनेजर ने पूछताछ में पियूष जैन के द्वारा विस्फोटक सामग्री देने की जानकारी दी है जिसको भी पुलिस ने नामजद कर लिया है। इससे पूर्व नरौरा गांव में विस्फोटक पकड़े जाने के दो मामले सामने आये थे जिसमें भी उक्त सप्लायर का नाम भी था। उसके पास विस्फोटक रखने का लाइसेंस है और वह विस्फोटक की अवैध बिक्री कर रहा है।

 

rewa

क्रशर संचालक व सप्लायर नामजद

पुलिस ने करीब 82 जिलेटिन राड व 1000 डिटोनेटर जब्त किया है। इतनी बड़ी मात्रा में विस्फोटक सामग्री मिलने से पुलिस के भी होश उड़े हुए हैं। पुलिस ने मैनेजर के अलावा क्रशर संचालक सुरेन्द्र सिंह निवासी इंदिरा नगर व सप्लायर को नामजद कर लिया है। सप्ताह भर पूर्व ही पुलिस ने नरौरा गांव में दबिश देकर दो लोगों को विस्फोटक सामग्री सहित नगदी के साथ गिरफ्तार किया था। इस कार्रवाई के बाद अभी भी पुलिस के राडार में दर्जनभर क्रशर संचालक हैं जो अवैध तरीके से विस्फोटक सामग्री मंगवाकर उसका उपयोग पत्थर तोडऩे के लिए करते हंै।

-क्रशर प्लांट के कार्यालय में दबिश देकर विस्फोटक सामग्री पकड़ी गई है। मैनेजर को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। सतना की कंपनी का नाम सप्लायर के रूप में सामने आया है जिसको भी नामजद कर लिया गया है।फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है।
-आबिद खान, एसपी रीवा

rewa

खतरनाक होती है विस्फोटक सामग्री

पुलिस के हाथ लगी विस्फोटक सामग्री काफी खतरनाक है और यह सबकुछ तबाह करने की क्षमता रखती है। दो डिटोनेटर मिलकर एक कार को उड़ा सकते हैं। अब एक हजार डिटोनेटर व 82 जिलेटिन में कितना बड़ा धमाका होता इसका स्वयं अंदाजा लगाया जा सकता है। दअरसल खदान में विस्फोट के समय पहले जिलेटिन फंसाई जाती है और उससे निकले तार को डिटोनेटर से जोड़ दिया जाता है। इसके बाद एक तार के माध्यम उसमें बैट्री या फिर कम्प्रेशर के माध्यम से करंट पहुंचाया जाता था। पहले डिटोनेटर में विस्फोट होता है और फिर दूसरा विस्फोट जिलेटिन में होता है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned