मऊगंज, निपनिया और रतहरा में यहां खुलेंगे बिजली सब स्टेशन

मऊगंज, निपनिया और रतहरा में यहां खुलेंगे बिजली सब स्टेशन

Manoj singh Chouhan | Publish: Jul, 13 2018 03:33:28 PM (IST) Rewa, Madhya Pradesh, India

अधीक्षण यंत्री ने कार्यभार संभालते ही की समीक्षा, रतहरा विद्युत सब स्टेशन के लिए दूसरी जमीन तलाशें

रीवा. पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में नए अधीक्षण यंत्री वीके जैन ने कार्यभार संभाल लिया। उनका कहना है कि उपभोक्ताओं की समस्याओं का निराकरण होगा और योजनाएं रफ्तार पकड़ेंगी। पहले ही दिन अधीक्षणयंत्री ने आइपीडीएस योजना, दीन दयाल ग्राम ज्योति योजना और सौभाग्य योजना की समीक्षा की।

बताया गया कि आइपीडीएस योजना के तहत तीन विद्युत सब स्टेशन बनने हैं जिसमें मऊगंज और निपनिया में कार्य प्रारंभ है जबकि रतहरा सब स्टेशन का निर्माण जमीन विवाद के कारण शुरू नहीं हुआ। यह जानकारी मिलने के बाद अधीक्षणयंत्री ने दूसरी जमीन के लिए प्रयास करने के निर्देश दिए।

सौभाग्य योजना और दीन दयाल योजना के लक्ष्य समय पर पूरे करने की बात कही। इसके साथ ही उपभोक्ताओं की छोटी-छोटी समस्याओं को शीघ्र निराकरण करने की बात कही। अधीक्षणयंत्री को बताया गया कि मनगवां, नईगढ़ी, सेमरिया और हनुमना में सौभाग्य योजना के लक्ष्य सितंबर माह तक पूरे कर लिए जाएंगे। इस मौके पर कार्यपालन अभियंता वीके शुक्ला, आरके जैन, सतीश तिवारी सहित अन्य अधिकारी बैठक में मौजूद रहे।

कार्यभार संभालने के बाद अधीक्षणयंत्री से मुलाकात का सिलसिला शुरू हो गया। इसी कड़ी में बिजली कर्मचारी महासंघ के पदाधिकारियों ने कार्यालय पहुंचकर उन्हें फूलमाला पहनाकर स्वागत किया। उम्मीद जताई कि आने वाले दिनों में कर्मचारियों की समस्याओं का भी निराकरण होगा।

पहले ही दिन लाइन फॉल्ट से घिरे

अधीक्षणयंत्री के कार्यभार संभालते ही बड़ी संख्या में लाइन फॉल्ट की शिकायतें आनी शुरू हो गईं। आंधी और बारिश के कारण त्योंथर, चाकघाट और गुढ़ में विद्युत लाइन फॉल्ट होने से कई घंटे से बिजली सप्लाई बंद थी। मामले को गंभीरता से लेते हुए निराकरण किया गया। वहीं कटरा में कई दिनों से बंद ट्रांसफार्मर भी स्थापित कराया गया। अधीक्षणयंत्री ने उपभोक्ताओं की समस्याओं को शीघ्र निराकरण करने की बात कही है। इसके साथ ही शासन की योजनाओं सौभाग्य योजना और दीनदयाल योजना पर विशेष ध्यान देकर समय पर लक्ष्य पूरे करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही अन्य समस्याओं को लेकर चर्चा की।

Ad Block is Banned