फसलों को बचाने बेजुबानों से दरिंदगी, आए दिन सामने आ रही घटनाएं

सिटी कोतवाली पुलिस नहरों में मवेशियों को उतारने वालों की कर रही तलाश

By: Shivshankar pandey

Published: 22 Sep 2021, 09:57 PM IST

रीवा। फसलों को जानवरों से बचाने के लिए बेजुबान जानवरों के साथ दरिंदगी हो रही है। यह कोई पहला मामला नहीं था जब जानवरों के साथ यह कृत्य किया गया है। एक दिन पूर्व नहर में बेजुबान जानवरों को नहर में उतारने वाले आरोपियों की तलाश की जा रही है लेकिन उनके संबंध में अभी तक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

एक दिन पूर्व नहर में उतारे गए थे जानवर
सिटी कोतवाली थाने के लोही नहर में बेजुबान जानवरों को आवारा तत्वों ने नहर में उतार दिया था जिसकी जानकारी मिलने पर पुलिस ने रेसक्यू आपरेशन कर जानवरों को बाहर निकाला गया। इन जानवरों को नहर में उतारने वाले आरोपियों का पता लगाया जा रहा है। इन जानवरों को नहर में किस स्थान से उतारा गया था यह पता नहीं चल पाया हे। स्थानीय लोगो्रं को उन्हें नहर के रास्ते गांव तरफ आते देखा था जिन्होंने उसको रोक लिया। पुलिस उन सभी लोगों के संबंध मे्रं जानकारियां एकत्र कर रही है।

रात में पशु चिकित्सक पहुंचे
रात में पशु चिकित्सकों की टीम भी मौके पर पहुंच गई जिसने जानवरों की स्थिति की जांच की। यह कोई पहला मौका नहीं है जब बेजुबान इस दरिंदगी का शिकार हुए है। दरअसल लोग अपने जानवरों खुला छोड़ देते है जो एक साथ से दूसरे स्थान में किसानों की फसलों को चोपट करते है। अपनी फसलों को इन जानवरों से बचाने के लिए अक्सर लोग उनके साथ यह दरिंदगी करते है। हालांकि न तो किसानों को जल्द इस समस्या से निजात मिलने की उम्मीद नजर नहीं आ रही हे।

जानवरों को लगे थे टैग, पशुपालकों को सौंपे गए
नहर से निकाले गए सभी जानवरोंं में टैग लगे हुए थे। ये आवारा जानवर नहीं थे बल्कि लोगों के पालतू जानवर थे जिनको उन्होंने छोड़ दिया गया। रात में जब पशु चिकित्सकों की टीम पहुंची तो उसने टैग के आधार पर मालिकों का पता लगाया और उन्हें जानवर सौंपे जा रहे है। उनको अपने जानवरों को खुला नहीं छोडऩे की समझाईश दी गई है। अधिकांश लोग जब जानवर दूध देना बंद कर देता है तो उसे छोड़ देते है और वे किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाते है।

Show More
Shivshankar pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned