यात्रियों की हुई फजीहत: सोहागी पहाड़ में लगा जाम, 14 घंटे तक फंसे रहे वाहन

देर रात हुआ हादसा, सुबह होते-होते करीब 15 किमी. दूर तक जाम लग गया, क्रेन की सहायता से ट्रकों को हटवाने के लिए दिनभर जूझती रही पुलिस

By: suresh mishra

Published: 11 Dec 2017, 12:21 PM IST

रीवा। शनिवार की रात हाइवे में दो ट्रकों के टकराने से भीषण जाम लग गया है। पहाड़ में दोनों वाहन फंसे हुए थे, जिनको हटवाने के लिए दिनभर पुलिस क्रेन लेकर जूझती रही। हालांकि छोटे वाहनों के निकलने का रास्ता पुलिस ने किसी तरह तैयार करवा दिया था लेकिन भारी वाहनों की कई किमी लंबी लाइन लग गई। रीवा-इलाहाबाद हाईवे पर 14 घंटे से भी अधिक समय तक यातायात पूरी तरह बाधित रहा।

शनिवार की रात करीब 12 बजे सोहागी पहाड़ में दो ट्रकों में टक्कर हो गई। टक्कर के बाद उक्त वाहन सड़क में ही फंस गए जिससे दोनों ओर का आवागमन बाधित हो गया। देर रात पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन काफी मशक्कत के बाद भी जाम खुलवाने में सफलता नहीं मिली। सुबह तहसीलदार भी मौके पर पहुंचे। करीब 8 बजे पुलिस ने छोटे वाहनों को निकलने का रास्ता तैयार करवाया।

पुलिस ने क्रेन भी बुलवाई

जिससे आंशिक रूप से लोगों को जाम से राहत मिल गई लेकिन भारी वाहन जाम में ही फंसे रहे। सड़क में फंसे वाहनों को हटवाने के लिए पुलिस ने क्रेन भी बुलवाई लेकिन वह भी ट्रकों को नहीं खिसका पाई। सुबह होते-होते जाम करीब 15 किमी. दूर तक लग गया था। दोनों ओर ट्रक और बस में जाम में फंसे हुए थे। उक्त ट्रक ऐसी स्थिति में फंस गये थे जिनको हटवाने में पुलिस के पसीने छूट गए।

12 घंटे बाद भी नहीं मिली क्रेन
इस हादसे ने प्रशासनिक व्यवस्थाओं की पोल खोल दी है। घटना के तत्काल बाद रात 12 बजे कंट्रोल रूम को क्रेन भेजने के लिए बोला गया लेकिन दूसरे दिन बारह बजे तक क्रेन नहीं पहुंची। पुलिस ने एमपीआरडीसी की क्रेन बुलवाकर सांयकाल किसी तरह वाहनों को किनारे हटवाकर आवागमन खुलवाया। हैरानी की बात तो यह है कि 15 दिन बाद अद्र्धकुंभ का मेला इलाहाबाद में शुरू होने वाला है जिसमें लाखों लोग प्रतिदिन गंगा स्नान करने आते हैं। यदि यही व्यवस्था रही तो कुंभ स्नान करने वालों को जाम का सामना करना पड़ेगा।

बसों में परेशान रहीं महिलाएं व बच्चे
सोहागी पहाड़ में जाम लगने से बसों में सवार महिलाएं व बच्चे काफी परेशान रहे। बच्चे भूख-प्यास से बेहाल रहे। पहाड़ में दूर-दूर तक पानी व खाने की व्यवस्था नहीं है। अन्य यात्रियों को भी मुश्किल का सामना करना पड़ा। आसपास बाजार या ढाबा नहीं होने से भूखे ही समय गुजारना पड़ा। यहां तक कि प्रशासन ने भी जाम में फंसे लोगों को खाने पीने की समग्री उपलब्ध करवाने की व्यवस्था नहीं कराई। जाम में फंसे लोग प्रशासनिक व्यवस्था को कोसते रहे। खराब सडक के चलते यहां अक्सर जाम की स्थिति निर्मित होती है।

खराब पड़ी है क्रेन
कहने को तो पुलिस विभाग के पास क्रेन भी मौजूद है लेकिन उचित रखरखाव के अभाव में वह शोपीस बनी हुई है। देर रात जब कंट्रोल रूम से क्रेन भेजने को बोला गया तो उसके खराब होने की जानकारी मिली। इसके बाद पुलिस को व्यक्तिगत स्तर पर क्रेन की व्यवस्था कर जाम खुलवाना पड़ा।

सोहागी पहाड़ में रात को दो ट्रक टकरा गए थे जिसकी वजह से जाम लग गया था। क्रेन की मदद से दोपहर तक जाम खुलवा दिया गया है। दोनों वाहनों को सड़क से किनारे हटवा दिया गया है। जाम खुलवाने में वाहन चालकों ने भी काफी मदद की।
दीपक पराशर, थाना प्रभारी सोहागी

suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned