विन्ध्य की संस्कृति व परंपरा का प्रदर्शन प्रदेश स्तर पर होगा--विधानसभा अध्यक्ष

विधानसभा अध्यक्ष ने साहित्यकारों व कवियों का किया सम्मान,शहर में विभिन्न जगहों पर किया सौंजन्य भेंट

By: Rajesh Patel

Published: 03 Apr 2021, 09:26 AM IST

रीवा. विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम गुरुवार को रीवा प्रवास पर हैं। गुरुवार को सर्किट हाउस में साहित्यकारों व कवियों का शाल, श्रीफल सौंपकर सम्मानित किया। इस अवसर पर विस अध्यक्ष कहा कि रीवा मनीषियों की धरा है। साहित्यकारों को गुरू की भूमिका का निर्वहन करना होगा ताकि उनके बताये सदमार्ग पर चलकर मैं अपने दायित्वों का अच्छे ढंग से सफलतापूर्वक निर्वहन कर सकूं। अध्यक्ष ने कहा कि विन्ध्य की संस्कृति व परंपरा को प्रदेश स्तर पर प्रदर्शित करने के लिए भोपाल में विशेष महोत्सव आयोजित कराया जाएगा ताकि अपनी भाषा, बोली व संस्कृति को प्रदेश व देश स्तर पर पहचान मिले।
सहित्यकारो को किया सम्मानित
विस अध्यक्ष ने कवि व साहित्यकार रामनरेश तिवारी निष्ठुर ने काव्य पाठ किया तथा उन्होंने साहित्यकारों की तरफ से विधानसभा अध्यक्ष से रीवा में बघेली खण्डपीठ की स्थापना की मांग की। कार्यक्रम में अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय रीवा के हिन्दी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. दिनेश कुशवाहा ने कहा कि सदगुण ही राजपुरूष की कीर्ति को दोगुनी करते हैं। महाराज छत्रसाल ने भी साहित्यकारो, कवियों को सम्मान दिया था। इस अवसर पर युवा कवि सिद्धार्थ श्रीवास्तव ने भी अपनी कविता पढ़ी।
ये रहे मौजूद
इस दौरान विधायक मनगवां डॉ. पंचूलाल प्रजापति, महामंत्री राजेश पाण्डेय, भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ.् अजय सिंह, राम सिंह सहित देवेन्द्र पाण्डेय बेधडक़, शिवशंकर शिवाला, डॉ. कैलाश तिवारी, जयराम शुक्ल, विजयशंकर, गिरीश, दुर्गा प्रसाद चतुर्वेदी, जगजीवन लाल तिवारी, रागिनी सिंह, रीना सिंह, विमलेश मिश्रा, विवेक द्विवेदी, रमेश तिवारी रिपु, ओमप्रकाश मिश्र सहित बड़ी संख्या में साहित्यकार व कवि उपस्थित रहे

Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned