शासन ने पूछा-भेजी गई प्याज समय से अनलोड क्यों नहीं हुई

रेलवे रैक प्वाइंट पर समय से खाद्यान्न सहित प्याज अनलोड नहीं किए जाने के मामले में शासन ने जिम्मेदारों से रिपोर्टतलब की है।

By: Rajesh Patel

Published: 22 Aug 2017, 05:59 PM IST

रीवा. रेलवे रैक प्वाइंट पर समय से खाद्यान्न सहित प्याज अनलोड नहीं किए जाने के मामले में शासन ने जिम्मेदारों से रिपोर्टतलब की है। जबकि रैक प्वाइंट पर लोड-अनलोड करने वाले एचएलआर से काम छीनकर दूसरे को सौंप दिया गया है।

मध्य प्रदेश स्टेट सिविल सप्लाई कारर्पोरेशन विभाग ने रीवा, सतना और सिंगरौली के नागरिक आपूर्तिनिगम के जिला प्रबंधकों को पत्र भेजकर जानकारी मांगी है कि जून में शासन द्वारा भेजी गई प्याज समय से अनलोड क्यों नहीं की गई। गौरतलब है कि बीते जून में सरकार द्वारा खरीदी गई प्याज को रीवा, सतना और सिंगरौली भेजा गया था। जिसको समय से अनलोड नहीं किया गया था। कार्यालय सूत्रों के अनुसार रेलवे रैक प्वाइंट पर समय से प्याज और खाद्यान्न अनलोड नहीं किए जाने पर रेलवे ने एचएलआर मित्तल से काम छीनकर एचएलआर जीवन ट्रांसपोर्टर को रैक प्वाइंट पर लोडिंग-अनलोडिंग का काम दे दिया है।कार्यालय सूत्रों के अनुसार नान प्रबंधक एसके गुप्ता को प्याज के साथ ही खाद्यान्न की सप्लाई में शिथिलता बरते जाने की लंबे समय से शिकायत चल रही थी। शासन ने गड़बड़ी पाए जाने पर सस्पेंड कर दिया है। बताया गया कि सस्पेंड के बाद भी नान प्रबंधक शासन के आदेश की अनदेखी कर रहा है।

परिवहनकर्ताओं पर प्रबंधक ने कसी नकेल, रोका बिल
जिले में पीडीएस की सप्लाईसमय से कराने के लिए परिवहनकर्ताओं पर शिकंसा कसा जा रहा है। सोमवार को नान के प्रभारी जिला प्रबंधक आरबी तिवारी ने पीडीएस की सप्लाईकरने वाले परिवहनकर्ताओं द्वारा प्रस्तुत बिल की जांच करने के बाद भुगतान की अनुमति दिए जाने का आदेश दिया है। प्रबंधक ने नईगढ़ी और मऊगंज के ट्रांपोर्टरों परिवहन भुगतन के बिल को कवरिंग लेटर के साथ ही अन्य कई कारण से रोक लगाते हुए प्रक्रिया पूरी करने के बाद ही भुगतान के अनुमति देने के निर्देश दिए। प्रबंधक ने परिवहनकर्ताओं को को चेताया कि अगली बार से पावती और कवरिंग लेटर के साथ ही बिल प्रस्तुत किए जाएं।

Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned