शौच के लिए निकली युवती की हत्या, पैरा में जलाया शव

चाकघाट थाने के बघेड़ी गांव में घटना से खिंचा सनाका, पुलिस मौके पर पहुंची

By: Shivshankar pandey

Published: 22 Apr 2021, 09:04 AM IST

रीवा। मंगलवार की शाम घर से शौच के लिए निकली युवती की हत्या कर शव को धान के पैरा में जला दिया।

देर रात देखा गया शव
देर रात उसका शव जलते पैरा के बीच मिलने से सनसनी फैल गई। सुबह पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों का पता नहीं चल पाया है। रोंगटे खड़े कर देने वाली यह घटना थाने के बघेड़ी गांव की है। यहां रहने वाली प्रीति साकेत पिता पन्नलाल 22 वर्ष मंगलवार की शाम घर से शौच के लिए निकली थी जिसके बाद वह लापता हो गई। करीब घंटे भर तक जब वह लौटकर वापस नहीं आई तो परिजनों ने उसे खोजना शुरू कर दी। हर जगह तलाश की लेकिन उसका कोई पता नहीं चला। रात करीब 9 बजे जब वे जलते हुए पियरा के पास पहुंचे तो वहां युवती का शव जली अवस्था में देखकर उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई।

पुलिस मौके पर पहुंची
मौके पर पहुंची पुलिस ने अंधेरा होने की वजह से घटनास्थल को सुरक्षित करवा दिया। बुधवार की सुबह सीन आफ क्राइम यूनिट टीम के साथ पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। युवती के शव के ऊपर जला हुआ पियरा पड़ा था। घटनास्थल से करीब 100 मीटर पहले उसका लोटा और चप्पल पड़ी थी। आशंका जताई जा रही है कि रात में किसी ने युवती की हत्या की और शव को पियरा में रखकर जला दिया। पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण का भौतिक साक्ष्य एकत्र किये। बाद में उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया गया है। पुलिस अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है जिसके बाद ही मौत के कारण सामने आऐंगे।

घटना से दूर पड़ा मिला मोबाइल, पियरा लेने आए लोग उठा ले गए
इस घटना के बाद युवती का मोबाइल घटना से कुछ दूर आरोपियों ने फेंका था। रात में घटनास्थल से करीब सौ मीटर दूर दूसरे खेत में कुछ लोग ट्रैक्टर ट्राली में पियरा लोड कर रहे थे। जब वे वापस जाने लगे तो मोबाइल उनको पड़ा मिला जिसे वे अपने साथ उठा ले गये। रात में जब परिजनों ने फोन लगाया तब उसने फोन पर पड़ा मोबाइल मिलने की जानकरी दी।

डाग स्क्वाड बुलाने की मांग पर अड़े परिजन, नहीं उठने दिया शव
इस घटना के बाद आक्रोशित परिजनों ने शव को नहीं उठने नहीं दिया। वे आरोपियों की गिरफ्तारी और डाग स्क्वाड को बुलाने की मांग पर अड़े रहे। घटना की सूचना मिलने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय डाबर मौके पर पहुंचे और परिजनों से उनकी मांगों के संबंध में चर्चा की। तनाव को देखते हुए आसपास के अन्य थानों का बल भी बुलाया गया। एएसपी के निर्देश पर डाग स्क्वाड को मौके पर बुलाया गया जिसकी मदद से पुलिस ने आरोपियों का पता लगाने का प्रयास किया। दिन भर गांव में बवाल चलता रहा और शाम करीब चार बजे उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया गया।

7 मई को होने वाली थी शादी
उक्त युवती की शादी होने वाली थी। 1 मई को उसकी तिलक जानी थी और 7 मई को बारात आने वाली थी। पूरा परिवार शादी की तैयारियों में लगा हुआ था लेकिन अचानक हुई इस घटना ने परिवार की खुशिायों को मातम में तब्दील कर दिया। परिजन भी इस घटना से सदमे में है।

Show More
Shivshankar pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned