डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों पर महिला कांग्रेस ने किया विरोध प्रदर्शन

- रस्सी से आटो खींचकर महिलाओं ने बड़ी कीमतों का जताया विरोध

By: Mrigendra Singh

Published: 30 Jun 2020, 09:39 PM IST


रीवा। बढ़ती महंगाई को लेकर केन्द्र सरकार के खिलाफ कांग्रेस पार्टी की ओर से कई दिनों से विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। महिला कांग्रेस ने शहर के साईं मंदिर के पास डीजल और पेट्रोल की लगातार हो रही मूल्यवृद्धि के चलते धरना दिया। करीब दो घंटे तक धरना देने के बाद महिलाओं ने शहर में रैली निकाली। जिसमें विरोध के प्रतीक के तौर पर एक आटो को रस्सी से बांधकर खींचा।

कांग्रेस की महिला नेत्रियों की यह रैली संभागायुक्त कार्यालय पहुंची, जहां पर डीजल और पेट्रोल की कीमतों को घटाने की मांग उठाते हुए राष्ट्रपति के नाम प्रेषित ज्ञापन सौंपा। इस दौरान महिला कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष कविता पाण्डेय ने कहा कि आज जो सत्ता में बैठे लोग हैं उन्हें महंगाई की चिंता नहीं है। यही जब विपक्ष में थे तो यूपीए सरकार पर आए दिन आरोप लगाते थे।

जब पेट्रोल की कीमत 60-65 रुपए थी तब भाजपा एवं उसके सहयोगी दल देशभर में विरोध प्रदर्शन करते थे। अब 90 रुपए प्रति लीटर के पार कीमत होने पर खामोश हैं। उन्होंने कहा कि विपक्ष में रहते हुए स्मृति ईरानी तत्कालीन प्रधानमंत्री को चूडिय़ां भेंट कर रही थी।

यदि देश और लोगों की चिंता है तो अब सामने आएं चूडिय़ां जाकर भेंट करें। पूर्व विधायक विद्यावती पटेल, बबिता साकेत, रमा दुबे, योगिता सिंह परिहार, गीता माझी, नेहा सिंह, सीमा सिंह, किरण तिवारी, आशा पाण्डेय, सत्या द्विवेदी, वंदना श्रीवास्तव, ममता सिंह, नजमा बेगम सहित अन्य कई महिलाएं मौजूद रहीं।

- कीमत नहीं घटी तो जारी रहेगा प्रदर्शन
संभागायुक्त कार्यालय ज्ञापन देने पहुंची महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं ने कहा कि यदि पेट्रोल-डीजल की कीमतें नहीं घटेंगी तो इस तरह से विरोध प्रदर्शन नियमित जारी रहेगा। सरकार के खिलाफ महिलाओं की ओर से नारेबाजी की गई, साथ ही विरोध में स्लोगन और नारों का बैनर लेकर भी पहुंची थी। महिला कांग्रेस की जिला महामंत्री नेहा सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार महंगाई को बढ़ाने का काम कर रही है। कांग्रेस अब जनता को जागरुक करेगी।

------------------------------------

Mrigendra Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned