पत्रिका अभियान ( वर्क फ्रॉम होम ) : इंजीनियर फील्ड में फिजिकल वर्क के साथ घर पर तैयार कर रहे एस्टीमेट

पीडब्ल्यूडी कार्यालय में 90 फीसदी अधिकारी-कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम पर निपटा रहे कार्य

By: Rajesh Patel

Published: 23 May 2020, 02:20 PM IST

रीवा. कोरोना संक्रमण काल में पीडब्ल्यूडी और सेतु निगम कार्यालय में भी अधिकारी और कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम में कार्यालयालीय कार्य निपटा रहे हैं। दोनों कार्यालय के 90 फीसदी कर्मचारी ई-आफिस में काम कर रहे हैं। कार्यालय प्रमुख भी मीटिंग को छ़ोड़ योजनाओं की मॉनीटरिंग वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। कर्मचरियों का 33 फीसदी रोस्टर बनने के बाद अधिकांश कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम कार्य कर रहे हैं।

पीडब्ल्यूडी में 100 से अधिक कर्मचारी पदस्थ
जिला मुख्यालय पर अकेले पीडब्ल्यूडी ईई कार्यालय में 100 अधिक का स्टाफ है। कार्यालय में काम कम होने से इस बार अभी तक बिजली का बिल नहीं आया है। जबकि सामान्य दिनों हर माह लगभग बीस हजार रुपए बिजली का बिल आता है। कार्यालय प्रमुख कहते हैं कि दो माह से बिल नहीं आया है। निश्चित ही कार्यालय में कूलर, पंखे नहीं चल रहे हैं। इसस बिल का खर्च कम हुआ होगा।

हमारे लिए थोड़ा कठिन, कर्मचारियों का बनाया रोस्टर
पीडब्ल्यूडी ईई नरेन्द्र शर्मा कहते हैं कि वर्क फ्रॉम होम कार्य करना हमारे के लिए थोड़ा कठिन है। हां यह सही है कि कोरोना के इस संकट काल में कार्यालय के कुछ कार्य ऐसे हैं जो घर पर ही कर लेते हैं। कई बार फील्ड के अधिकारियों से आनलाइन कान्फेंस के जरिए कार्यो के प्रगति की जानकारी मिल जाती है। कार्यालय कुछ कर्मचारियों को छोड़ दे तो अधिकांश कर्मचरी वर्क फार्म होम पर हैं। कर्मचारी घर पर काम करने के साथ ही कार्यालय इस लिए आते हैं दस्तावेज, मैप कार्यालय में ही रहता है। कर्मचारियों के लिए भी थोड़ा कठिन हैं। लेकिन, घर पर वर्क बेहतर होता है। कर्मचारी घर पर कार्य करते हैं तो वाहन और व्यक्गित खर्च भी कम हो जाता है।


फिजिकल वर्क के लिए फील्ड में जाना पड़ता है
पीडब्ल्यूडी के इंजीनियर एसवी ङ्क्षसह कर्चुली कहते हैं कि फील्ड में फिजिकल वर्क के साथ कार्यालय में रेकार्ड देखना पड़ता है। कोरोना संक्रमण के समय वर्क फ्रॉम होम है। घर में ही ई-आफिस चल रही है। इस्टीमेट, पत्र आदि लिखने पढऩे का कार्य घर पर ही कंप्यूटर कर लेते हैं। घर में कंप्यूटर पर टाइप करते समय बाबुओं से मौखिक जानकारी मिल जाती है। लेकिन, रेकार्ड तैयार करने के लिए कार्यालय के दस्तावेज से मैच करने, मीटिंग अटेंड करने के लिए कार्याय जाना ही पड़ता है। यह बात सही है कि घर पर इस्टीमेट तैयार करते समय दबाव नहीं मसहसूत होता है। अच्छे से कार्य हो जाता है।

पचास फीसदी से ज्यादा कार्य घर पर
सेतु निगम के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर वसीम खान कहते हैं कि रीवा रिजनल कार्यालय में कुल 16 कर्मचारियों का स्टाफ है। कार्यालय के साथ ही वर्क फ्रॉम होम भी कार्य हो रहा है। फील्ड के कार्य के साथ-साथ कार्यालय में कई कार्य ऐसे होते हैं उसके लिए कार्यालय जाना ही पड़ता है। रेकार्ड सभी कार्यालय में ही होते हैं। फिजिकल के लिए फील्ड में जाना होता है। पचास फीसदी से ज्यादा कार्य घर पर हो जाता है। यह बात सही है कि वर्क फ्रॉम होम में व्यक्ति के साथ कार्यालय का खर्च बच सकता है। कार्यालय में कूलर, पंखे आदि खर्च कम हो जाएंगे। कर्मचारियों के वाहन के ईंधन में कटौती हो सकती है।

COVID-19
Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned