जंकफूड स्वाद में जितना आकर्षक है सेहत के लिए उतना ही खतरनाक, विशेषज्ञों की जानिए राय

- इंजीनियरिंग कालेज में वयस्कों के लिए पोषण आहार पर कार्यशाला का हुआ आयोजन

 

रीवा। भोजन को लेकर लगातार आ रहे बदलाव पर इंजीनियरिंग कालेज में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। जहां पर विषय विशेषज्ञों ने छात्रों को जानकारी उपलब्ध कराई। इस कार्यशाला का आयोजन वयस्कों के पोषण आहार पर जानकारी देने के लिए किया गया।

कालेज के छात्र-छात्राओं वयस्कों के लिए पोषण आहार किस तरह का होना चाहिए और वर्तमान में जिस ओर इनका आकर्षण बढ़ रहा है, उससे किस तरह के नुकसान होते हैं। इसकी जानकारी उपलब्ध कराई गई। विषय विशेषज्ञ के रूप में शासकीय कन्या महाविद्यालय रीवा की गृह विज्ञान विभाग की प्राध्यापक डा अर्चना गुप्ता पहुंची। उन्होंने कहा कि जंक फूड की ओर से तेजी के साथ आकर्षण बढ़ रहा है। ये स्वाद में जितने लजीज समझ में आते हैं, स्वास्थ्य के लिए उतने ही नुकसानदेह भी होते हैं।

अर्चना गुप्ता ने कहा कि कार्बोहाइड्रेट, वसा एव विटामिन से युक्त आहार घर पर तैयार होने वाले को ही ग्रहण करें। उन्होंने कहा कि शरीर को स्वस्थ रखना है तो मेडिटेशन एवं एक्सरसाइज नियमित रूप से करें। यह भी बताया कि फास्टफूड और कोल्ड ड्रिंक की मांग काफी अधिक होती है। स्वाद के लिए कभी कभार ही इसका इस्तेमाल करें, नियमित रूप से घर पर तैयार होने वाले आहार को प्राथमिकता दें। इस दौरान इंजीनियरिंग कालेज के प्राचार्य डॉ. बीके अग्रवाल, कार्यशाला की संयोजक अर्चना ताम्रकार, भौतिकी के विभागाध्यक्ष डॉ. संदीप पाण्डेय, प्रो. नलिनी गुप्ता, डा आरके जैन, समीक्षा चौहान , अल्क़ा वर्मा, पूजा तिवारी, संध्या मिश्रा सहित कालेज के अन्य प्राध्यापक और छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

Mrigendra Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned