script43 schools to be upgraded in sagar | फरवरी में बोर्ड परीक्षाएं, 1 टीचर के भरोसे चल रहे 600 से ज्यादा स्कूल ! | Patrika News

फरवरी में बोर्ड परीक्षाएं, 1 टीचर के भरोसे चल रहे 600 से ज्यादा स्कूल !

सीएमराइज तहत करीब 43 स्कूलों को किया जाना है अपग्रेड

सागर

Published: January 05, 2022 05:07:49 pm

सागर। जनवरी में प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में प्रतिभा पर्व का आयोजन होगा और फरवरी में बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो जाएंगी। स्कूलों में शिक्षकों की कमी के चलते विद्यार्थियों के भविष्य पर असर पड़ेगा। वजह है कि सरकारी स्कूलों में ऑनलाइन और ऑफलाइन पढ़ाने के लिए शिक्षक नहीं है। शिक्षा विभाग द्वारा सीएमराइज के तहत 43 स्कूलों में निजी स्कूलों के समान शिक्षक और अन्य सुविधाएं देने पर काम तो शुरू हो गया, लेकिन हकीकत अधिक चिंता जनक है। एक्सीलेंस और मॉडल स्कूलों में तक पढ़ाने के लिए शिक्षक नहीं है।

gettyimages-611521971-170667a.jpg
schools

संभाग में 600 से अधिक स्कूल ऐसे हैं जहां एक शिक्षक से ही काम चलाया जा रहा है। पूरे संभाग की बात करें तो करीब 18 हजार शिक्षकों के पद रिक्त है। संभाग में कक्षा एक से लेकर आठवीं तक में करीब 9 लाख विद्यार्थी अध्ययनरत हैं जबकि हाई स्कूल और हॉयर सेकेण्डरी में हर साल 3 लाख विद्यार्थी पढ़ाई करते हैं। इस हिसाब से कक्षा 1 से लेकर 12 वीं तक सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की संख्या करीब 12 लाख है जबकि पढ़ाने के लिए मानक के अनुसार शिक्षक नहीं है। शिक्षकों की कमी के चलते संभाग भर की स्कूलों करीब 11 हजार अतिथि शिक्षक पढ़ा रहे है, लेकिन यह भी नाकाफी है।

सागर में ही 5 हजार शिक्षकों की कमी

संभाग के पांचों जिलों में शिक्षक, सहायक शिक्षक, प्रधानाध्यापक, वरिष्ठ अध्यापक, सहायक अध्यापक आदि सभी वर्गों को मिला लें तो 55 हजार पद स्वीकृति हैं। इनके विरुद्ध 37 हजार शिक्षक ही विभिन्न संवर्ग में कार्यरत है। इस हिसाब से देखा जाए तो 18 हजार शिक्षकों के पद यहां अब भी रिक्त हैं। जिला मुख्यालय पर सागर में ही 5000 शिक्षकों के पद रिक्त हैं। करीब 1600 पद तो उच्च और उच्च माध्यमिक शिक्षकों के रिक्त हैं।

अतिथियों के भरोसे मॉडल स्कूल

मॉडल स्कूल ही शिक्षकों की कमी से जूझ रहे हैं। बीना मॉडल स्कूल में ही बायो और गणित के शिक्षक नहीं है। यहां 14 पद स्वीकृत हैं और 12 शिक्षक ही हैं। प्राचार्य लोकेश जैन ने बताया कि स्कूल में 399 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। बंडा मॉडल स्कूल भी शिक्षकों की कमी से जूझ रहा है। यहां केवल 12 पद स्वीकृत हैं, और 471 विद्यार्थियों की संख्या दर्ज है। प्राचार्य संतोष चौरसिया ने बताया कि फिजिक्स, अर्थशास्त्र और इतिहास जैसे मुख्य विषय के शिक्षक नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.