27 लाख 31 हजार से बननी थी एक गौशाला, 9 गौशाला का निर्माण कार्य अब भी अधूरा

- 22 गौशाला में केवल 2452 पशु ही आए, पंचायतों में सड़कों पर आवरा घूम रहे हैं पशु

By: Atul sharma

Published: 18 Feb 2021, 11:25 AM IST

सागर. आवारा पशुओं की देखभाल के लिए शासनस्तर पर हर पंचायत में गौशाला निर्माण कराया जाना है। प्रथम फेज में जिले की पंचायतों में 31 गौशाला बनाई जानी थी और यहां पशु भी आने थे लेकिन जिसमें 22 जगह गौशाला बनकर तैयार हो गई है। एक गौशाला का निर्माण 27 लाख 31 हजार रुपए की राशि से किया गया है। वहीं जहां निर्माण कार्य पूरा हो गया तो उद्घाटन का इंतजार हो रहा है। जिससे आवारा मवेशी बाजार में खुलेआम घूम रहे हैं। जबकि उनकी सुरक्षा को लेकर गौशाला बनाए जाने का निर्णय लिया गया, ताकि उनकी देखभाल हो सके। वहीं इन गौशालों के संचालन की जिम्मेदारी स्व सहायता समूहों की दो जानी हैं ताकि यहां गौशाला का संचालन कर महिलाएं भी आत्मनिर्भर बन सके।

नहीं हुआ उद्घाटन

मालथौन ब्लॉक की हड़ली पंचायत में मां जागेश्वरी समूह को संचालन की जिम्मेदारी दी गई है। लेकिन गौशाला निर्माण कार्य पूरा होने के बाद यहां उद्घाटन नहीं हुआ है, इसलिए एक भी पशु को यहां लाया गया नहीं गया है। वहीं खुरई की बसाहारी पंचायत में अब तक अनुबंध नहीं हो पा रहा है। मालथौन पंचायत में पंचायत खत्म होने के बाद सहयोग नहीं मिल रहा है। कई जगह मनरेगा के तहत बन रही गौशाला के लिए बजट की खत्म हो गया है।
निर्माण कार्य नहीं हुआ पूरा
गौशाला निर्माण कार्य प्रवासी मजूदरों से कराया जा रहा है। इन गौशालाओं का निर्माण लॉकडाउन के बाद ही पूरा हो जाना चाहिए था लेकिन कई जगह निर्माण कार्य अब भी अटका हुआ है। जैसीनगर के खमकुंआ, हिन्नौद और शाहगढ़ की हीरापुर पंचायत में बिल्डिंग निर्माण कार्य अब तक पूरा नहीं हुआ है। वहीं देवरी की रायखेड़ी और बण्डा की भेड़ाखास पंचायत में भी बिल्डिंग निर्माण नहीं हुई है। समय पर काम पूरा न होने की वजह से अवारा पशु अब भी सड़कों पर ही घूम रहे हैं।
2452 पशुओं को भी रखा
गौशालाओं की क्षमता के अनुसार यहां कम संख्या में ही पशुओं को रखा है। अवारा पशुओं को गौशालाओं तक लाने का कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। जिले की 22 गौशालाओं में कुल 2452 पशु ही हैं। जैसीनगर की बांसा पंचायत में तो केवल 15 पशुओं को ही रखा गया है।

Atul sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned